बंगाल विधानसभा चुनाव को लेकर सरगर्मी बढ़ती जा रही है पश्चिम बंगाल चुनाव को लेकर राजनिति पूरी तरह से गरमाई हुई है सभी पार्टिया सत्ता पाने के लिए अपना-अपना दाव खेल रही है बंगाल चुनाव में भाजपा और टीएमसी के बिच टक्कर दिख रही है भाजपा लगातार अपने दाव खेल रही है वही टीएमसी भी सत्ता को बचाने के लिए पूरा प्रयास कर रही है पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव में कुछ ही दिन बचे है सभी पार्टियों ने अपनी कमर कस ली है

पश्चिम बंगाल चुनाव पर सभी की नज़रे टिकी हुई है सभी पार्टिया अपने चुनावी वादों से जनता को लुभाने का पूरा प्रयास कर रही है वही एक दूसरे पर निशाना साध रही है, इसी बिच भाजपा ने अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कोलकाता में पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा का घोषणापत्र जारी किया। इस घोषणापत्र को भाजपा की तरफ से ‘संकल्प पत्र’ का नाम दिया गया है। इस बीच अमित शाह ने कहा कि सरकार के आते ही CAA को लागू किया जाएगा इस बीच उन्होंने ये भी वादा किा हर शरणार्थी परिवार को 50000 हजार रुपए दिए जाएंगे।

ऐसे बॉलीवुड एक्टर केआरके उर्फ कमाल आर खान ने इस पर चुटकी ली और कहा कि चुनाव आयोग अमित शाह के झूठे वादों पर क्यों बैन नहीं लगाता? भड़कते हुए एक्टर ने कहा- आज Amit Shah जी ने बंगाल में वादों का पिटारा खोल दिया है, और पैसे तो ऐसे बांट रहे हैं, जैसे कि टैक्सपेयर्स की मेहनत की कमाई Amit Shah जी की निजी संपत्ति है! मेरी समझ में नहीं आता कि ऐसे झूठे वादों पर प्रतिबंध क्यों नहीं लगाता? ये वही हैं, जिन्होंने 15 लाख को जुमला बताया था!


अमित शाह के इस बयान पर केआरके के इस पोस्ट पर लोगों ने भी ढेर सारे कमेंट करने शुरू कर दिए। सचिन साघावी नाम के यूजर ने कमेटं कर लिखा- भाईसाब १५ लाख हर आदमी के अकाउंट में जमा करूंगा ये वीडियो शेयर करें नही तो देख लेना। सपना चौधरी नाम से जवाब देने वाली एक यूजर ने कहा- ओह सारे अब्दुल 15 लाख के लिए लार टपकाए बैठे हैं।

संजय कुमार शुक्ला बोले- ममता बनर्जी ने भी तो वायदों का पिटारा खोल दिया है क्या उनकी निजी संपत्ति है। असम में राहुल गांधी, प्रियंका वाड्रा ने भी वायदों का पिटारा खोल दिया है। क्या टैक्स पेयर्स की मेहनत की कमाई उनकी निजी संपत्ति है? ये गरीबी हटाओ का नारा देने वाले परिवार की चौथी पीढ़ी है। अमित कसाना बोले- आजाओ लेलो तुम्हारे 15 लाख। पैसे ले कर review देने वाले अब ज्ञान देने लगे हैं क्या दिन आ गए हैं।

इसके अलावा भाजपा ने अपने घोषणापत्र में सभी महिलाओं की पढ़ाई निशुल्क करने, पब्लिक ट्रांसपोर्ट में महिलाओं के निशुल्क यात्रा करने, राज्य सरकार की सभी नौकरियों में महिलाओं को 33% आरक्षण देने, CMO के अंतर्गत एंटी करप्शन हेल्पलाइन की शुरुआत करने, मछुआरों को प्रतिवर्ष 6000 रुपये की सहायता आदि की भी घोषणा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.