राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव काफी दिनों से रांची के जेल में है, उनकी तबीयत काफी दिनों से खराब चल रही थी रांची में जेल प्रशासन ने एक महीने के लिए लालू को एम्स भेजने की अनुमति दी थी, जेल आईजी बिरेन्द्र भूषण ने रिम्स निदेशक को चिट्ठी लिखकर इसकी इजाजत दी थी. रिम्स प्रबंधन ने जेल प्रशासन से लालू की खराब तबीयत को देखते हुए उन्हें अविलंब दिल्ली ले जाने का आग्रह किया था.

कल रात में लालू प्रसाद यादव से बिहार की पूर्व-मुख्यमंत्री और उनकी पत्नी राबड़ी देवी, और उनके पुत्र तेज़ परताप और तेजस्वी यादव के साथ साथ बड़ी बेटी निसा भर्ती भी मिलने पहुंचे, लालू यादव को अचानक से साँस लेने में तकलीफ हो रही थी और उनकी तबियत बिगड़ गई थी , हलाकि अभी उनकी हालत ठीक है डॉक्टरों की टीम उनके इलाज़ के लिए लगी हुई है उनकी दोनों कोरोना टेस्ट रिपोर्ट भी निगेटिव आई है लालू प्रसाद यादव को तबियत को देखते हुए उनको दिल्ली के एम्स के CNC(Cardiothoracic and Neuro sciences centre) के CCU (कृटिकल केयर यूनिट में एडमिट किया गया है.

तेजस्वी यादव ने बताया है की गुरूवार की रात से सांस लेने में दिक्कत हो रही है उन्हें फेफड़ो में दिक्कत , निमोनिया, ब्लड शुगर और किडनी से जुड़ी बीमारिया हैं, इसी वजह से लालू यादव को दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया है बताया जा रहा है की उम्र ज़ायदा होने की वजह से प्रॉब्लम ज़ायदा हो रही है इसलिए कार्डियोलोजिस्ट, लंग्स, किडनी स्पेशलिस्ट की निगरानी में इलाज हो रहा है.

दरअसल,उनके फेफड़े में पानी भरने की भी बात सामने आई है. रिम्स के डॉक्टरों ने लालू यादव को निमोनिया होने की बात कही है. किडनी 25 फीसदी ही काम कर रही है. डॉक्टरों की टीम ने लालू यादव को एम्स भेजने का फैसले लिया, तो अस्पताल में रिश्तेदारों और पार्टी नेताओं की भारी भीड़ लग गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.