इस पार्टी का हुआ भाजपा में विलय, विधान परिषद में अब नहीं एक भी सदस्य…

February 27, 2021 by No Comments

बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए से अपना रास्ता अलग करने के बाद लोक जनशक्ति पार्टी ने अपने अकेले द’म पर चुनाव लड़ा था। जिसमें पार्टी को बड़ी शिकस्त मिली है। हाल ही में लोजपा के कार्यकर्ता बड़े स्तर पर पार्टी छोड़कर जनता दल यूनाइटेड में शामिल हो चुके हैं।

गौरतलब है कि लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान ने ऐलान किया था कि भले ही उन्होंने बिहार की राजनीति में एनडीए से रास्ता अलग कर लिया है। लेकिन केंद्र की राजनीति में आज भी वह भारतीय जनता पार्टी के साथ खड़े हैं। इस बीच खबर सामने आ रही है कि बुधवार को सभापति की मंजूरी मिलने के बाद बिहार विधान परिषद में लोक जनशक्ति पार्टी का विलय भारतीय जनता पार्टी में हो गया है।

इस विलय के साथ ही पार्टी अध्यक्ष चिराग पासवान की पार्टी का प्रतिनिधित्व बिहार विधान परिषद में अब वि’लय हो चुका है। वहीं भाजपा के सदस्यों की संख्या 21 तक पहुंच गई है। आपको बता दें कि बिहार सरकार के वन एवं पर्यावरण मंत्री नीरज कुमार बबलू की पत्नी नूतन सिंह ने भी हाल ही में भाजपा का दामन थाम लिया है। आपको बता दें कि नूतन सिंह बिहार विधान परिषद में लोजपा की एकमात्र सदस्य थीं। जिन्होंने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल की मौजूदगी में बीजेपी की सदस्यता ग्रहण कर ली।
नूतन सिंह के भाजपा में आते ही परिषद में अब लोजपा का प्रतिनिधित्व शून्य हो गया.नूतन के लोजपा से भाजपा में शामिल होते ही विधान परिषद में अब पार्टी के 21 विधान पार्षद हो गए। हालांकि अब भी जदयू सबसे बड़ी पार्टी है, उसके 23 सदस्य हैं। इससे पहले बीते गुरूवार को भी लोजपा के 208 कार्यकर्ताओं और नेताओं ने जदयू का दामन थामा। लोजपा से खेमा बदलकर जेडीयू में शामिल होने वाले नेताओं ने लोजपा के अध्यक्ष चिराग पासवान के ऊपर जमकर नि’शाना साधते हुए गं’भीर आ’रोप लगाए थे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *