देश में कोरोना के मामले कम होने के बाद फिर से तेजी से बढ़ने लगे हैं और दिन-प्रतिदिन बढ़ते हुए कोरोना के केस एक बार फिर से चिंता का विषय बनता जा रहा हैं, जिस प्रकार से कोरोना के केस बढ़ रहे हैं उसे देखकर यहीं लग रहा हैं कि कही फिर दुबारा देश में लॉकडाउन ना लग जाए, पिछले साल लॉकडाउन लगने के बाद देश में कोरोना केस तेजी से बढ़े थे और साल के अंत मे केस धीरे-धीरे कम होने लगें थे.

लेकिन एक बार फिर कोरोना के बढ़ते हुए केस की वजह से सभी के मन में अब यहीं सवाल घूम रहा हैं कि क्या देश में दुबारा लॉकडाउन लग सकता हैं और आने वाले दिनों में केंद्र सरकार क्या रुख अपना सकती हैं ऐसे ही तमाम सवालो का जवाब दिया केंद्रीय मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर ने कोरोना से बचाव के लिए देश में ही निर्मित वैक्सीन के द्वारा पूरे देश में वैक्सीनेशन कार्यक्रम चलाया जा रहा हैं, आंकड़ों के अनुसार अब तक कुल मिलाकर 4 करोड़ 85 लाख लोगों को कोरोना वैक्सीन की डोज दे चुके हैं जिनमें लगभग 4 करोड़ लोगों को वैक्सीन की सिंगल डोज जबकि लगभग 85 लाख लोगों को वैक्सीन की दोनों डोजदे चुके हैं.

यहां तक कि पिछले 24 घंटो में ही वैक्सीन की 32 लाख 54 हजार डोज दी चुकी हैं, अगर वैक्सीन की डोज के प्रतिदिन औसत की बात करें तो फरवरी में ये लगभग 3 लाख 77 हजार था जो मार्च में 15 लाख 54 हजार तक पहुंच गया हैं, प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट मीटिंग में ये निर्णय लिया गया कि आगामी 1 अप्रैल से देश भर में 45 साल से ऊपर के सभी लोगों को वैक्सीन की डोज दी जाएगी, अभी तक केवल 60 साल से ऊपर के लोगों या फिर 45 साल से ऊपर के ऐसे लोग जिन्हें कोई बीमारियां हैं.

लेकिन अब 1 अप्रैल से 45 साल से ऊपर के लोगों को बिना किसी शर्त के वैक्सीन दी जाएगी, वैक्सीन लेने के लिए अभी भी पहले की ही तरह रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी होगा, देश में सबसे पहले वैक्सीन हेल्थ वर्कर और फ्रंट लाइन वारियर को दी गई थी जिसके बाद 16 फरवरी से 60 साल से ऊपर के बुजुर्ग लोगों को वैक्सीनेशन की शुरुआत की गई.

देश के कुछ राज्यों में जिस तरह से कोरोना के केस तेजी से बढ़ रहे हैं तो सबके मन में यहीं सवाल उठ रहा था कि क्या देश में फिर से लॉकडाउन लगेगा तो केंद्रीय मंत्री ने देश में फिर से लॉकडाउन लगाने की बात को सिरे से खारिज कर दिया, उन्होंने कहा कि इस समय हर कोई जागरूक हैं और लोग कोरोना से बचने के लिए वैक्सीन लगवा रहे हैं, उन्होंने ये भी कहा कि जिन राज्यों में केस बढ़ रहे हैं उन राज्य सरकारों से केंद्र सरकार लगातार संपर्क में हैं और राज्यों को कोरोना से बचाव हेतु गाइडलाइंस जारी कर दी गई हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.