आज से शुरू होगा मदरसों का सर्वे, इसको लेकर मायावती, ओवैसी, ने बीजेपी पर कर दिया…

September 10, 2022 by No Comments

उत्तर प्रदेश में शनिवार से गैर मान्यता प्राप्त मदरसों का सर्वेक्षण शुरू होगा इसको लेकर बीजेपी के खिलाफ विपक्ष पूरी तरह से हमलावर हो चुका है पहले मदरसे के मुद्दे पर बसपा प्रमुख मायावती ने बीजेपी सरकार पर निशाना साधा था अब ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने बीजेपी पर निशाना साधा है शनिवार से मदरसे के सर्वे का काम शुरू होगाम

यूपी सरकार के निर्देश के अनुसार पांच अक्टूबर तक सर्वे का काम पूरा होगा जबकि 25 अक्टूबर तक शासन को सर्वे की रिपोर्ट भेजी जाएगी वहीं सरकार के इस फैसले पर बसपा प्रमुख मायावती ने ट्वीट कर निशाना साधा है उन्होंने कहा, “मुस्लिम समाज के शोषित, उपेक्षित और दंगा-पीड़ित होने आदि की शिकायत कांग्रेस के ज़माने में आम रही है।

फिर भी बीजेपी द्वारा ’तुष्टीकरण’ के नाम पर संकीर्ण राजनीति करके सत्ता में आ जाने के बाद अब इनके दमन और अतंकित करने का खेल अनवरत जारी है, जो अति-दुखद और निन्दनीय है. उन्होंने आगे लिखा, “इसी क्रम में अब यूपी में मदरसों पर बीजेपी सरकार की टेढ़ी नजर है. मदरसा सर्वे के नाम पर कौम के चन्दे पर चलने वाले निजी मदरसों में भी हस्तक्षेप का प्रयास अनुचित जबकि सरकारी अनुदान से चलने वाले मदरसों और सरकारी स्कूलों की बदतर हालत को सुधारने पर सरकार को ध्यान केन्द्रित करना चाहिए।

वहीं इस फैसले पर असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट कर लिखा, “मोदी सरकार के मदरसों के आधुनिकरण की योजना के तहत सिर्फ यूपी में और 50,000 शिक्षकों की कुल ₹750 करोड़ तनख्वाह बकाया है संसद भवन में मैने ही सवाल उठाया था और पूर्व अल्पसंख्यक कार्य मंत्री ने इस सवाल पर मुझे आश्वासन दिया था कि फंड जल्द तक्सीम कर दिए जायेंगे उन्होंने अपनी अगले ट्वीट में लिखा।

“टीचरों की ऐसे म’अशी हालात का क्या जिम्मेदार मैं हूं? बकाया फंड देने के लिए सरकार को कौन-से सर्वे की जरूरत है? आधुनिकरण के बहाने मदरसों को निशाना बनाया जा रहा है. बीजेपी शासित राज्यों में मदरसों को निशाना बनाया जा रहा है. जब मैंने इसकी मुखालिफत की तो मुझ पर झूठा इलजाम लगा दिया गया कि मैं मदरसों के आधुनिकरण के खिलाफ हूं.”

Leave a Comment

Your email address will not be published.