बिहार विधानसभा चुनाव के लिए रूझान आने शुरू हो गए हैं तो साथ ही मध्य प्रदेश उपचुनाव के लिए भी आज मतगणना हो रही है. 28 सीटों के लिए हुए उपचुनाव में दोनों ही दल अपने को जीता हुआ बता रहे थे. आपको बता दें कि अगर भाजपा को अपनी सरकार बचानी है तो कम से कम आठ सीटें जीतनी ही होंगी जबकि कांग्रेस को वापिस सत्ता चाहिए तो सभी सीटें जीतनी होंगी.

अब तक 22 सीटों के रूझान आये हैं. रूझानों से जो स्थिति बन रही है वो इस प्रकार है- भाजपा-12, कांग्रेस-9, अन्य-1. रविवार को जबलपुर (Jabalpur) पहुंचे राज्यसभा सांसद और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विवेक तन्खा (Vivek Tankha) ने विधानसभा उपचुनाव में 20 से ज्यादा सीटें जीतने का दावा किया है. उन्होंने कहा कि उनकी व्यक्तिगत और सार्वजनिक तौर पर जिनसे भी चर्चा हुई है उसके मुताबिक 22 विधायकों की गद्दारी और पाला बदलने के एवज में 35 करोड़ की रकम लेने की बात जनता भी महसूस कर रही है, और हर कोई इसकी जमकर आलोचना कर रहा है.

विधायकों की खरीद-फरोख्त और पार्टी से की गई उनकी गद्दारी को देखते हुए कांग्रेस की जीत सुनिश्चित है. तन्खा ने सभी मुद्दों पर बीजेपी की जमकर घेराबंदी करते हुए कहा कि बीजेपी ने प्रदेश में राजनीति की गलत परंपरा की शुरुआत की है. चुनी हुई सरकार को गिराने की बात हो या फिर लालच देकर विधायकों को अपनी पार्टी में शामिल करवाने का मसला.

उन्होंने कहा कि जनता भी समझ रही है कि बीजेपी राजनीति को किस ओर लेकर जा रही है. उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस के विधायकों को तोड़कर अपने पाले में शामिल करने और उन्हें कर्नाटक के होटल में ठहराने से लेकर हवाई जहाज तक का खर्च भारतीय जनता पार्टी ने उठाया है, और इसके सबूत भी उनके पास मौजूद हैं. राज्यसभा सांसद ने कहा कि भाजपा ने पहले भी दूसरी पार्टियों के विधायकों को तोड़ा है और अब ये सिलसिला तो बदस्तूर जारी रहने वाला है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.