महाराष्ट्र में सिया’सी संक’ट गह’राता ही जा रहा है सर’कार बनाने को लेकर पार्टि’यों में ग’ठबं’धन जोड़-तो’ड़ का दौ’र जारी ही था कि इसी बीच ख़’बरें आ रही हैं कि महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शास’न लगाए जाने की बात सामने आ रही है। बता दें कि राज्य’पाल ने NCP को बहुम’त सा’बित करने के लिए आज रात साढ़े आठ बजे तक का सम’य दिया था पर आज सुबह NCP ने राज्य’पाल से 48 घंटे और माँ’गे। जिस बात पर राज्य’पाल ने राष्ट्रपति शास’न की सिफ़ा’रिश भेज दी।

वहीं केंद्र में केबिनेट ने भी राष्ट्रपति शास’न की बात को अपनी सहम’ति देते हुए राज्यपाल के फ़ैस’ले का सम’र्थन किया है। राजभवन की ओर से इस मामले में अभी प्रे’स री;लिज़ जारी की गयी है। वहीं इस बात से ना’राज़ होकर शिव’सेना ने राज्य’पाल के राष्ट्रपति शास’न लगाने के फ़ैस’ले का विरो’ध करते हुए सुप्री’म को’र्ट का दरवाज़ा खटख’टाया। शिवसेना का कहना है कि “जब राज्य’पाल ने भाजपा को 48 घंटे का समय दिया तो उन्होंने शिवसेना को 24 घंटे ही क्यों दिए?”

राज्यपाल ने कहा कि महाराष्ट्र में सर’कार बनने के आ’सार नज़’र नहीं आ रहे इसलिए राज्य में राष्ट्रपति शास’न ला’गू होना चाहिए। सूत्रों की माने तो शिवसेना को NCP की ओर से ये एक झ’टका लगा है। साथ ही राष्ट्रपति शास’न का सबसे बड़ा अ’सर शिवसेना पर होगा। राष्ट्रपति शास’न की आ’धिका’रिक घोष’णा कल सुबह तक हो सकती है। वहीं शिवसेना का क़ा’नूनी दाँ’व उनके प’क्ष में होगा या नहीं ये भी देखने वाली बात है क्योंकि राज्य’पाल ने अपनी ओर से सारी क़ा’नूनी प्रक्रि’या का पालन किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.