मौलाना जरजिस को दस साल की सज़ा…. फास्ट ट्रैक कोर्ट ने सुनाई सजा, महिला के साथ….

September 22, 2022 by No Comments

इटावा के मशहूर मौलाना जरजीस वाराणसी की फास्ट ट्रैक कोर्ट ने 10 साल की कै’द की सजा सुनाई है आपको बता दें मौलाना जरजिस के खिलाफ जैतपुरा की रहने वाली महिला ने साढे़ छह साल पहले मुकदमा दर्ज कराया था।महिला के अनुसार मौलाना जरजिस अक्सर बनारस में तकरीर करने के लिए आता था। उस दौरान वह होटल में ठहरता था।

महिला ने कहा तकरीर के दौरान ही वर्ष 2013 में उसका परिचय मौलाना से हुआ था। उसके बाद कई बार उससे मुलाकात होती रही और जब भी वह बनारस आता तो मुझे होटल में बुलाता था।महिला ने बताया कि इस दौरान वह शादी का झां’सा देकर होटल में कई बार दु’ष्क’र्म किया और अश्ली’ल वीडियो भी बनवा लिया। उस वीडियो के आधार पर ब्लैकमेल करते हुए जब भी बनारस आता तो दु’ष्क’र्म करता रहा।

महिला के अनुसार, इसके साथ ही धम’की दी कि यदि इसका किसी से जिक्र करोगी तो तुम्हें पूरे हिंदुस्तान में बद’नाम करेंगे। पी’ड़िता ने एक दिसंबर 2015 को जैतपुरा थाने में मौलाना जरजिस के खिलाफ दु’ष्क’र्म, ब्लै’कमे’ल और धम’की समेत अन्य आरोपों में मुकदमा दर्ज कराया था। अदालत ने विचारण में अभियुक्त मौलाना जरजिस को दो’षी पाया।

अधिवक्ता अवधेश कुमार सिंह के अनुसार पी’ड़िता और चार गवाहों के बयान, साक्ष्य के आधार पर फास्ट ट्रैक कोर्ट ने मौलाना को दु’ष्क’र्म मामले में दो’षी करार दिया। गुरुवार को 10 साल कड़ी कैद और 10 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई गई।

फास्ट ट्रैक कोर्ट प्रथम नीरज श्रीवास्तव की अदालत ने उसे 10 हजार रुपए के जुर्माने से भी दंडित किया है। मौलाना जरजीस को न्यायिक हिरासत में लेकर जेल भेजा गया। वहीं, मौलाना ने कहा कि वह इस फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट जाएंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published.