मा’फिया बा’हुबली मुख्तार अंसारी की मुश्कि’लें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं एमपी एमएलए की विशेष कोर्ट ने व्यक्तिगत तौर पर मुख्तार अंसारी को कोर्ट में पेश होने को कहा है विशेष अदालत ने गुरुवार को माफिया बाहुबली मुख्तार अंसारी Mukhtar Ansari को 11 अगस्त को व्यक्तिगत रुप से पेश करने का आदेश दिया है अदालत ने इस संदर्भ में अपने इस आदेश की प्रति अनुपालनार्थ बांदा जेल के वरिष्ठ जेल अधीक्षक के साथ ही अतिरिक्त महानिदेशक कारागार, लखनऊ के पुलिस आयुक्त, पुलिस महानिदेशक, प्रमुख सचिव गृह व मुख्य सचिव को भी भेजने का आदेश दिया है।

 

आपको बता दें इस मामले में बाहुबली मुख्तार अंसारी के अलावा अभियुक्त युसुफ चिश्ती, आलम, कल्लू पंडित व लालजी यादव पर आरोप तय होना है यह सभी अदालत में व्यक्तिगत रुप से उपस्थित हैं लेकिन मुख्तार अंसारी की अनुपस्थिति से आरोप तय नहीं हो पा रहा है ।

आपको बता दें इससे पहले जिला कारागार बांदा के वरिष्ठ जेल अधीक्षक ने एक प्रार्थना पत्र के माध्यम से अदालत को बताया था कि अभियुक्त को गंभीर बीमारियां है जिसकी वजह से अदालत के समक्ष उपस्थित होने में असमर्थ है लिहाजा अदालत से गुजारिश है कि उसके विरुद्ध आरोपों का निर्धारण की कार्यवाही वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से की जाए।

जबकि विशेष न्यायाधीश ने अपने आदेश में कहा है कि जेल अधीक्षक ने प्रार्थना पत्र में इस संदर्भ में कोई आख्या नहीं दी है कि उनके द्वारा अभियुक्त को आरोपों का निर्धारण के लिए अदालत में उपस्थित कराया जा सकता है या नहीं जबकि इस मामले में अभियुक्त की मात्र पेशी नहीं होनी है बल्कि उस पर आरोप निर्धारित किया जाना है ।

आपको बता दें 21 साल पहले के मामले में एमपी एमएलए स्पेशल कोर्ट ने कारापाल व उपकारापाल पर हमला, जेल में पथराव व जानमाल की धमकी देने के एक मामले में बाहुबली मुख्तार अंसारी को 11 अगस्त को व्यक्तिगत रुप से पेश करने का आदेश दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.