अफगानिस्तान में ता’लिबा’न राज की वापसी हो गई है जिसको लेकर भारत में भी बयानबाजी का सिलसिला शुरू हो चुका है समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क के बाद अब मशहूर शायर मुनव्वर राणा ने भी ता’लि’बान को लेकर बडा बयान दे दिया है जिसपर हंगा’मा होना तय है मशहूर शायर मुनव्वर राणा का कहना है कि जितनी क्रूर’ता अफगानिस्तान में है उससे ज्यादा क्रूर’ता तो हमारे यहां भारत में है ।

उन्होंने कहा पहले रामराज था लेकिन अब कामराज है अगर राम से काम है तो ठीक वरना कुछ नहीं शायर मुनव्वर राणा ने कहा कि हिन्दुस्तान को ता’लिबा’न से ड’रने की ज़रुरत नहीं है क्योंकि अफगानिस्तान से हजारों बरस का साथ है उसने कभी हिन्दुस्तान को नुक’सान नहीं पहुंचाया है जब मुल्ला उमर की हुकूमत थी तब भी उसने किसी हिन्दुस्तानी को नुकसान नहीं पहुंचाया क्योंकि उसके बाप-दादा हिन्दुस्तान से ही कमा कर ले गए थे ।

उन्होंने कहा जितनी एके-47 उनके पास नहीं होगी उस से ज़्यादा तो हिन्दुस्तान में माफि’याओं के पास है ता’लिबा’नी तो हथियार छीनकर और मांगकर लाते हैं लेकिन हमारे यहां माफिया तो खरीदते हैं मुनव्वर राणा यही नही रुके उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा देवबंद में एटीएस सेंटर खोलने पर योगी सरकार पर सवाल उठा दिया कहा कि जब तक ये सरकार है कुछ भी कर सकती है लेकिन मौसम हमेशा एक जैसा नहीं रहता है।

मुनव्वर राणा ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भी थोड़े बहुत ता’लिबा’नी हैं यहां सिर्फ मुसलमान ही नहीं बल्कि हिंदू ता’लिबा’नी भी होते हैं आतं’कवा’दी क्या मुसलमान ही होते हैं हिन्दू भी होते हैं महात्मा गांधी सीधे थे और नाथूराम गो’डसे तालिबानी था उन्होंने कहा हम यही चाहते हैं जैसे पहले हमारा हिंदुस्तान था वैसे ही हो जाए ।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.