इस्लाम के खिलाफ आप’त्तिज’नक टी’प्पड़ी के विरोध में बरेली में लाखों मुसलमानों का प्रदर्शन, मौलाना ने कहा हिम्मत है तो….

January 8, 2022 by No Comments

हरिद्वार के धर्म संसद में मुसलमानों और इस्लाम के खिलाफ की गई आ’पत्तिजनक टिप्प’णियों के खिलाफ बरेली में लाखों मुसलमान उसके विरोध में जमा हुए जिसमें भाषण देते हुए आईएमसी नेता मौलाना तौकीर रजाने कहा देश को बर्बाद करने के लिए लड़ाई नहीं लड़ी जानी चाहिए। मैं जो कुछ भी कर रहा हूं किसी सियासी फायदे के लिए नहीं। जो हमने तकलीफ में जिंदगी गुजारी है आने वाली नस्ल के लिए हम अच्छा हिंदुस्तान छोड़ना चाहते हैं।

इस दौरान उन्होंने यूपी सरकार पर भी जमकर निशाना साधा वही दोसरी तरफ इस्लामियां ग्राउंड में आयोजित मुस्लिम धर्म संसद के मंच से मौलाना तौकीर ने उलेमाओं की दावत का जिक्र करते हुए कहा उलामा लोगों ने दावत का सिलसिला बंद कर दिया इसलिए हिंदू और मुस्लिमों में फर्क आ गया, दावत का सिलसिला शुरू कीजिए आपस में प्रेम भाव से रहिए तभी देश में सिलसिला शुरू होगा।

हरिद्वार में हुए धर्मसंसद को लेकर उन्होंने कहा कि वह असल में धर्म संसद नहीं थी किसी धर्म में यह नहीं सिखाया जाता है कि लोगों का क’त्लेआ’म शुरू कर दो लोगों की बुराई शुरू कर दी। धर्म संसद करने वाले अधर्मियों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। सरकार उनकी सरपरस्ती करती है तो हिं’दुओं को उनका समर्थन नहीं करना चाहिए। ऐसे अधर्मियो के साथ खड़े नहीं होना चाहिए।

यूपी सरकार को ललकारते हुए कहा, योगी जी अपनी पुलिस को भेजो हम यहीं खड़ रहेंगे। हटने वाले नहीं हैं उन्हीने कहा मैं हिंदू भाइयों से कहना चाहता हूं कि रावण कौन था। क्या रावण मुसलमान था। कृष्ण ने कंस का वध किया। क्या कंस मुसलमान था। पांडवों ने कौरवों का व’ध किया क्या कौरव मुसलमान थे?

 

उन्होंने कहा मैं हिं’दुओं को बताना चाहता हूं कि तुम्हें कौन सी पुस्तक पढ़ाई गई है जिसमें लिखा है कि हिंदू और मुसलमानों को लड़ना चाहिए। हर दौर में अच्छे और बुरे में लड़ाई हुई है। अच्छाई और और बुराई में जं’ग होती रहेगी। जब तक दुनिया है तब तक जंग होती रहेगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published.