मुंबई: महाराष्ट्र की बड़ी पार्टियों में शुमार की जाने वाली शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी में कई नेता बाग़ी तेवर के दिख रहे हैं. कई नेता एनसीपी छोड़ चुके हैं और भाजपा या शिवसेना का दामन थाम चुके हैं. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के भाजपा या शिवसेना ज्वाइन करने से पार्टी नेतृत्व परेशान तो है लेकिन उसका मानना है कि इससे युवा लोगों को आगे आने का मौक़ा मिलेगा.

जहाँ एनसीपी इस कोशिश में है कि वो अपनी पार्टी को फिर खड़ा करे वहीँ नेताओं के पार्टी छोड़ने का सिलसिला थम नहीं रहा है. अब ख़बर है कि दो दिन पहले इस्तीफ़ा देने वाले पार्टी के विधायक ने शिवसेना का दामन थाम लिया है. कोंकण क्षेत्र व प्रदेश के पूर्व मंत्री भास्कर जाधव ने सोमवार को शिवसेना में शामिल होने की घोषणा की थी. जाधव ने आज पार्टी का दामन थाम लिया.

ये राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के लिए बड़ा झ’टका माना जा रहा है. जाधव ने कहा था,”मैंने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के साथ कुछ सप्ताह पहले मुलाकात की थी और उन्होंने मुझे पार्टी में आने की पेशकश की।’ आगामी विधानसभा चुनाव में एक बार फिर गुहागर विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने के बारे में पूछे जाने पर जाधव ने कहा कि वह ऐसा चाहते हैं लेकिन फैसला शिवसेना नेतृत्व का होगा।

पार्टी में शामिल होने की घोषणा करने के दौरान उन्होंने कहा,”अगर मुझे कहा गया तो मैं इस सीट से चुनाव लड़ना चाहता हूं। लेकिन मैं शिवसेना की सूची की आधिकारिक घोषणा का इंतजार करूंगा। हालांकि यह तय है कि मैं शिवसेना में शामिल होने जा रहा हूं।” बता दें कि जाधव ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत शिवसेना से की थी।

वह वर्ष २००० में राकांपा में शामिल हुए और बाद में राज्य की कांग्रेस-राकांपा गठबंधन सरकार में मंत्री भी बने। पिछले ही महीने राकांपा विधायक अवधूत तटकरे ने भी शिवसेना में शामिल होने की घोषणा की थी। वह सोमवार को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की उपस्थिति में पार्टी का दामन थामेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.