मौलाना कलीम सिद्दीकी के लिए राहत की खबर उनके वकील ने कहा मौलाना को कोर्ट ने एटीएस के….

September 22, 2021 by No Comments

आज सुबह मौलाना कलीम सिद्दीकी की गिरफ्तारी पर उत्तर प्रदेश ATS की तरफ से प्रेस कॉन्फ्रेंस की गई इसमें बताया गया कि मौलाना कलीम सिद्दीकी पर हवाला के जरिए अवैध धर्मांतरण के लिए फंडिंग जुटाने का आरोप है ATS ने मौलाना को गिरफ्तार कर के कोर्ट में पेश कर दिया आपको बता दें मौलाना कलीम सिद्दकी पर ये भी आरोप लगाया गया है कि वो धर्मांतरण करने और धर्मांतरण के रैकेट में शामिल होने के लिए लोगों प्रेरित कर रहे थे।

आपको बता दें कुछ दिन पहले आर एस एस के प्रमुख मोहन भागवत के निमंत्रण पर मौलाना कलीम सिद्दीक़ ने उनसे मुलाकात भी की थी । आपको बता दें मौलाना कलीम सिद्दीकी के वकील अबू बकर सब्बाक ने फेसबुक पोस्ट के जरिए बताया है कि हमें बड़ी कामयाबी मिली है

आपको बता दें एडवोकेट Abubakr Sabbaq आज लखनऊ ATS स्पेशल कोर्ट मे मौलाना कलीम सिद्दीक़ी साहब की तरफ़ से पेश हुए थे तकरीबन डेढ़ घंटे तक बहस चली जिस के नतीजे में कोर्ट ने यूपी ATS को मौलाना कलीम सिद्दीकी की रिमांड पर भेजने के प्रस्ताव को ख़ारिज कर दिया और मौलाना को 5 अक्टूबर तक न्याय हिरासत में भेजने का फ़ैसला दिया।

आपको बता दें खबरों के अनुसार मौलान कलीम सिद्दीकी का नाम उमर गौतम मामले की जांच के दौरान सामने आया था यूपी एटीएस ने धर्मांतरण के आरोप में इस साल जून में दो लोगों को मोहम्मद उमर गौतम और मुफ्ती काजी जहांगीर कासमी को गिरफ्तार किया था पुलिस का कहना था कि ये लोग कथित रूप से धर्मांतरण रैकेट चला रहे थे उत्तर प्रदेश के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने खुद इस बात की पुष्टि की थी कि उमर गौतम धर्म बदलकर मुस्लिम बने थे आपको बता दें मोहम्मद उमर गौतम मूल रूप से उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले के रहने वाले है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.