मांझी की उम्मीदों पर नीतीश ने फेरा पानी, आज करेंगे पीएम मोदी से मुलाकात…

February 10, 2021 by No Comments

आखिरकार लंबे समय के इंतजार के बाद बिहार में सत्तारूढ़ नीतीश कुमार की सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार हो चुका है। बीते साल नवंबर के महीने में भी बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित किए गए थे। जिसके बाद नीतीश कुमार की सरकार बनी थी। लेकिन 2 महीने से ज्यादा वक्त हो जाने के बावजूद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कैबिनेट का विस्तार नहीं हो पा रहा था। जिसकी वजह कभी भारतीय जनता पार्टी तो कभी सहयोगी दलों को बताया जा रहा था।

नीतीश कुमार की अगुवाई वाली सरकार का 84 दिन के बाद विस्तार होने के बाद कल शपथ ग्रहण समारोह को लेकर पटना स्थित राजभवन में काफी हलचल नजर आई। खास बात यह है कि नरेश कुमार के कैबिनेट में इस बार सिर्फ भारतीय जनता पार्टी और जनता दल यूनाइटेड को भी जगह दी गई है। हालांकि एनडीए के अन्य सहयोगी दलों के नेताओं द्वारा भी मंत्री पद की मांग की गई थी। लेकिन नीतीश कुमार ने इस मांग को नजरअंदाज कर दिया है।

आपको बता दें कि स मंत्रिमंडल विस्तार में एनडीए में शामिल जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा और मुकेश साहनी विकासशील इंसान पार्टी से किसी को भी मंत्री नहीं बनाया गया है। हालांकि हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने बीते दिनों यह कहा था कि उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से एक मंत्री पद और एक एमएलसी की सीट देने की बात की है।

वहीं इस संबंध में मुकेश साहनी की ओर कोई मांग नहीं की गयी थी। उनकी पार्टी से एकमात्र वो मंत्री बने हैं। उन्हें विधानसभा चुनाव में हार मिली थी जिसके बाद हाल ही में उन्हें एमएलसी बनाया गया है। बता दें कि बिहार में मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर बीते कई दिनों से अटकलबाजी चल रही थी। भाजपा और जदयू में इसको लेकर खींचतान भी खूब चली। विपक्ष ने भी इसे लेकर सत्ता पक्ष पर जमकर निशाना साधा था।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *