क्यों हो रही कैबिनेट विस्तार में देरी? राजद ने नीतीश कुमार पर उठाए सवाल..

December 16, 2020 by No Comments

हाल ही में बिहार में विधानसभा चुनाव के बाद दोबारा एनडीए की सरकार बन चुकी है। बीते 16 नवंबर को को नीतीश कुमार की अगुवाई में एनडीए सरकार का गठन होने के बाद से ही लगातार मंत्रिपरिषद विस्तार को लेकर कयासबाजियों का दौर चल रहा है।

नीतीश कैबिनेट के विस्तार को लेकर चल रहे कयास पर अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कयासबाजी पर खुद ही विराम लगा दिया है। इस मुद्दे पर नीतीश कुमार ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा है कि भाजपा की तरफ से अभी ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं आया है। भारतीय जनता पार्टी को जब लगेगा मंत्रिपरिषद विस्तार के लिए, तभी इस पर बात होगी।

 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के इस बयान के बाद राज्य में एक बार फिर से सियासत गरमा गई है। जहाँ राजद-कांग्रेस ने मुख्यमंत्री के बयान के बाद भाजपा पर निशाना साधा है। मंत्रिपरिषद के विस्तार को लेकर सीएम नीतीश के बयान पर राजद नेता विजय प्रकाश ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि भाजपा नीतीश कुमार को चारों तरफ से घेरने में लगी है। भाजपा इस वक़्त नीतीश कुमार की पार्टी के खिलाफ साजिश कर रही है और जदयू को 43 सीटों से 13 सीट पर लाकर छोड़ेगी।

उन्होंने कहा है कि अभी भी वक़्त है। नीतीश कुमार को चाहिए कि तेजस्वी को राज तिलक कर देश की राजनीति करें। वहीं, सीएम नीतीश के इस बयान पर कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौर ने एनडीए पर निशाना साधते हुए कहा कि नीतीश अब निरीह प्राणी हो गए हैं।

इसके साथ ही उन्होंने ये भी कहा है कि मंत्रिमंडल विस्तार के लिए आरएसएस और भाजपा के आदेश का इंतजार कर रहे हैं। नीतीश कुमार को एक बार फिर अंतरात्मा जगाए और सीएम पद से इस्तीफा दे दें। दूसरी ओर बीजेपी ने इस मसले को लेकर सफाई दी है। पार्टी के प्रवक्ता संजय टाइगर ने कहा है कि ये मुख्यमंत्री का विशेषाधिकार है और सबके साथ बैठकर तय कर लिया जाएगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *