बिहार विधानसभा चुनाव में अन्य मु’द्दों के साथ साथ श’राबबं’दी एक बड़ा मु’द्दा बनकर साम’ने आया था। इसको लेकर सभी विपक्षी पार्टी बिहार सीएम नितीश कुमार पर लगातार हम’ला कर रहे हैं। पहले लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान, फिर आरजेडी नेता तेजस्वी यादव और अब एनडीए की पार्टी हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष और पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने भी नीतीश कुमार पर श’राबबं’दी को लेकर हम’ला बोला है। उन्होंने ऐसा बया’न दिया है कि बिहार जेडीयू के लिए मु’श्किल ख’ड़ा कर सकता है।

पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने नीतीश कुमार के श’राबबं’दी के फैसले को गरीबों के खि’लाफ बताया है। उन्होंने अपने बयान में कहा है, “ऐसे तो मैंने श’राबबं’दी का कभी विरो’ध नहीं किया है, लेकिन कानून के इम्प्लीमें’टेशन में निचले स्तर पर ग’ड़बड़ी है। नि’चले स्तर पर सरकार की नजर नहीं जा रही है और सिर्फ गरीबों को पकड़ा जा रहा है। बड़े-बड़े तस्क’रों पर कार्रवाई नहीं हो रही है।” उन्होंने आगे यह भी कहा, “सरकार बनेगी तो हम शराबबं’दी में पकड़े गए गरीबों की मदद करेंगे और गरीबों पर हुए मु’कदमे की समीक्षा करेंगे। ज्यादार ऐसे लोग पकड़े गए जो सिर्फ शराब पी रहे थे। तस्करी करने वाले लोग नहीं पक’ड़े गए हैं। मुझे उम्मीद है सरकार की पहल से श’राबबं’दी में फंसाये गए लोग छू’ट जाएंगे।”
Jitan Ram Manjhi-Nitish kumar
इससे पहले लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने इसी मुद्दे पर सीएम नीतीश कुमार पर निशा’ना साधा था। उन्होंने कहा, “वे श’राबबं’दी के नाम पर बिहार के युवाओं को तस्कर बना रहे हैं। बिहारी युवक रोजगार के अभाव में शराब त’स्करी के तरफ बढ़ रहा है, यह बिहार के मुख्यमंत्री के साथ अन्य सभी मंत्रियों को पता है कि राज्य में बेरोजगारी में वृ’द्धि के बीच श’राब की तस्करी बढ़ रही है।” बता दें कि बिहार चुनाव के पहले चर’ण से पहले कांग्रेस ने भी अपने घोषणा पत्र में नीतिश सरकार पर श’राबबं’दी के मु’द्दे पर कई आरो’प लगाए थे और साथ ही यह भी कहा था कि यदि बिहार में कांग्रेस सरकार बनती है तो कानून की समीक्षा की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.