नए साल पर होने वाले जश्न को लेकर सरकार ने जारी के नए निर्देश, नहीं कर पाएंगे ये काम…

December 30, 2020 by No Comments

साल 2020 की शुरुआत यही करुणा सं’क्रमण ने दुनियाभर में दस्तक दे दी थी। यह पूरा साल कोरोना महामा’री में ही गुजरा है। कल नए साल की शुरुआत होने वाली है और लोग इस नए साल से कई उम्मीदें लगा कर बैठे हुए हैं। लेकिन क्या यह नया साल हमारे लिए वैसा हो पाएगा। जिस तरह का हम सोच रहे हैं या नहीं।

गौरतलब है कि नए साल के मौके पर देश के साथ-साथ दुनिया भर में जश्न का माहौल बना रहता है। इसी बीच केंद्र सरकार ने सभी राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों से नए साल पर सख्त नि’गरानी रखने को कहा है। केंद्र सरकार ने कहा है कि नए साल के मौके पर जश्न होने से करो ना के संभावित सुपर स्प्रे’डर हो सकते हैं। इसके साथ ही सर्दियों के चलते भी भी’ड़ कम रखने के निर्देश दिए गए हैं।

 

मोदी सरकार ने तो निर्देश जारी कर दिए हैं। लेकिन राज्य सरकारों द्वारा अभी इसे लागू करने पर कोई फैसला नहीं लिया गया है। महाराष्ट्र में भी लोगों को अपने ही घरों में रहकर नए साल मनाने की जशन की अपील की गई है इसके साथ ही रात 11:00 बजे से लेकर सुबह 6:00 बजे तक नाइट कर्फ्यू भी लगाया जाएगा।

मुंबई में नए साल पर म’रीन ड्राइव, गेटवे ऑफ इंडिया, जुहू जैसे स्थानों पर बड़ी संख्या में लोग पहनते हैं। इसलिए महाराष्ट्र सरकार ने पहले ही यह फैसला ले लिया है। इसके साथ ही योगी सरकार ने नए साल के कार्यक्रम पर 100 से ज्यादा लोगों को शामिल होने पर रोक लगा दी है। नई साल पर कार्यक्रम के लिए पहले पुलिस और प्रशासन से इसकी इजाजत भी देनी होगी।

कार्यक्रम की मंजूरी मिलने के बाद भी गोविंद के नियमों का पालन करना अनिवार्य रखा गया है। सरकार की तरफ से जारी की गई गाइडलाइन में कहा गया है कि खुली जगहों पर आयोजन होने की स्थिति में वहां पर सिर्फ 40% लोग ही इकट्ठे हो सकेंगे। कोरोना वा’यरस के प्र’को’प के कारण लागू दिशानिर्देशों और इंग्लैंड में वायरस के नए स्वरूप का पता लगने से इस साल गोवा में नववर्ष के जश्न और पार्टियों के फी’का रहने के आसार हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *