कई दिन की लड़ाई के बाद पंजशीर पर क़ब्ज़ा, ता’लिबान ने इस वजह से नही किया एलान जानकर आप…..

September 6, 2021 by No Comments

अमेरिका और नाटो की फौजियों की वापसी के बाद पंजशीर के अलावा पूरे अफगानिस्तान पर ता’लिबान का कब्जा हो गया था 15 अगस्त के दोपहर में ता’लिबान ने काबुल पर क’ब्जा करके पूरी दुनिया को है’रान कर दिया था आपको बता दें अमरीका और दूसरे एजेंसियों ने दावा किया था कि ता’लिबान को काबुल कब्जा करने में 6 महीने का वक्त लग सकता है ।

लेकिन तालिबान ने सिर्फ 6 दिनों में ही काबुल पर कन्ट्रोल संभाल लिया था जिन अफ़ग़ान फौजियों को अमेरिका ने 20 साल तक ट्रेनिंग दी थी वो वह अमेरिकी और नाटो फौजों की वापसी के बाद 20 दिन भी नहीं ठहर सके ता’लिबान द्वारा अफगानिस्तान पर क’ब्जे के बाद जो सबसे ज्यादा मुश्किल जगह थी पं’जशीर जिसको 40 साल तक कोई कब्जा नहीं कर सका था ।

 

यहां तक कि सोवियत संघ भी उस पर कब्जा नहीं कर सका था इससे पहले 1996 में जब ता’लिबान ने अफगानिस्तान पर क’ब्जा जमाया था उस वक्त भी वो पंजशीर पर कब्जा नहीं कर सके थे अहमद शाह मसूद एक ऐसे लड़ाके थे जिनकी काट किसी के पास नहीं थी उनकी ह’त्या के बाद उनके बेटे अहमद मसूद ने कमान संभाल ली थी लेकिन अब पंज’शीर पर तालिबान का कब्जा हो गया है।

अफगान उर्दू मीडिया के अनुसार पंजशीर पर तालिबान का पूरी तरह कब्जा हो गया है उस का ऐलान हवाई फायरिंग से बचने के लिए नही किया गया है सुबह में एलान कर दिया जाएगा ट्विटर पर एक न्यूज एंजेंसी के अनुसार अहमद मसूद के चार करीबी आज की लड़ा’ई में मा’रे गए हैं।

जिसमें कमांडर मुनिब अमीरी, कमांडर गुल हैदर, कमांडर फहीम दस्ती, और कमांडर अब्दुल वजूद शामिल है पंजशीर पर कब्जे के बाद हो सकता है जल्द ही ता’लिबान सरकार के गठन का ऐलान करेंगे अंतरराष्ट्रीय मीडिया में चलने वाली खबर के अनुसार पंजशीर में चलने वाली लड़ाई की वजह से ता’लिबान ने सरकार के गठन का ऐलान टाल दिया था ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.