महाराष्ट्र में इन दिनों महा विकास अघाड़ी सरकार है जो शिवसेना,NCP और कांग्रेस की गठबं’धन सरकार है। इस सरकार के बनने में जितना समय और रणनी’ति लगी उतना ही समय लगा इस सरकार के मंत्रिमं’डल में विस्तार में भी। महाविकास अघाड़ी सरकार में हाल ही में मंत्री प’द दिए गए जिसको लेकर पार्टी में असं’तोष की स्थिति नज़र आने लगी। कहा जाने लगा कि शिवसेना, NCP और कांग्रेस तीनों ही पार्टियों के लोगों में असं’तोष है।

जब इस बारे में NCP प्रमुख शरद पवार से पूछा गया तो उन्होंने इस बात से इं’कार करते हुए कहा कि “महाराष्ट्र सरकार में विभा’गों के बँ’टवारे को लेकर किसी भी तरह का कोई मतभे’द नहीं है। उन्होंने कहा कि “महाराष्ट्र के सत्तारूढ़ गठबंधन में कोई भी विभा’गों के बं’टवारे को लेकर नाखु’श नहीं है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे गुरुवार या शुक्रवार को मंत्रियों के विभा’गों की घो’षणा करेंगे”

Sanjay Raut

ये ख़बरें तब उठने लगीं जब श’पथ ग्रह’ण में कई नेता अनुप’स्थित रहे। ख़बरें तो ये भी आयीं कि शिवसेना के संजय राउत भी इस समा’रोह से दूर रहे लेकिन उन्होंने जल्द ही इस बात को सा’फ़ कर दिया कि वो विभा’ग न मिलने से को ना’राज़ नहीं हैं” यही नहीं उन्होंने इस बात से भी इं’कार किया कि उनके भाई को मंत्रीप’द न मिलने से वो नाराज़ हैं।

संजय राउत ने कहा कि “हम देने वालों में से हैं हमारे परिवा’र ने हमेशा पार्टी को ख़ुद से ऊपर रखा है। संजय राउत ने कहा कि उनकी पार्टी के लोगों को ये समझना होगा कि ये तीन पार्टियों की सरकार है जिसमें कई अनुभवी और सक्षम लोग हैं ऐसे में पदों का बँटवारा उसी तरह हो पाएगा। हमें इस बात को लेकर ख़ुश होना चाहिए कि हमारी पार्टी के प्रमुख उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री प’द पर हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.