चाणक्य ने मानव जीवन में कई ऐसी बाते बताई है जिसे किसी इंसान ने अपने जीवन में अमल कर लिया उसे अपने जीवन में सफलता पाने से कोई रोक नहीं सकता,ऐसे में हम आपको बताएगे वे चीजे कौन सी है जिनहे लेने पर या हक से मांगने खासकर पुरुष को.अगर ये काम कर लेंगे फिर सफलता आपको पाने से कोई नही रोक सकता है.

1. पति पत्नी का प्यार –
शरिरिक सम्बन्ध के तैवर पर ये गलतिया कभी भी नही करनी चाहिए प्रेम सम्बंधो को मजबूत बनाये रखने के लिए दोनों कि सलाह मसुहर हमेशा मजबूत होना चहिए जो प्रेमी जोड़े एक दुसरे से शर्म करते है वह सम्बन्ध के दौरान घबरते है.

और उनके बीच में कोई गैर पुरुष या महिला आपना जगह बना सकती है इसलिए सम्बंधो के दौरान शर्म बिलकुल भी न करे बेझीझक होकर पति पत्नी एक दुसरे को प्रेम करे इसी में आपकी भलाई है.

2. भोजन करते हुए कभी शर्म न करे –
चाणक्य के अनुसार भोजन करते समय किसी भी ब्यक्ति को शर्म नहीं करनी चहिए और जिन लोगो को शर्म आती है वह भूखे ही सोते है और यह मुशीबत उनके लिए किसी बहुत बढ़ी परेशानी से कम नही है

और भूखा ब्यक्ति ग्रोथ का शिकार हो जाता है इसलिए उसे रोज़ भरपेट भोजन खाना चहिये और भोजन करते समय कभी भी शर्म नही करनी चहिये बल्कि भोजन में शर्म करना भोजन का अपमान माना जाता है

3. गुरु से ज्ञान लेते समय या किसी और से जानकारी लेते समय कभी भी शर्म न करे –
आचार्य चाणक्य के अनुशार अपने गुरु से ज्ञान लेते समय कभी भी शर्मना नहीं चहिए क्योकि जो ब्यक्ति ज्ञान लेते समय शर्म करता है उसका ज्ञान हमेशा अधुरा रह जाता है और ऐसा यक्ति अपने जीवन में कभी सफल हो ही नहीं सकता है इसलिए कहा जाता है कि अधुरा ज्ञान आपकी सबसे बढ़ी हार होती है

4. उधार का पैसा-
आचार्य चाणक्य के अनुशार किसी भी ब्यक्ति को किसी भी अन्य ब्यक्ति को दिया हुआ धन हमेशा मागना चहिए और जो ब्यक्ति आपना ही पैसा मागने में शर्म करे वह कभी भी धनी हो ही नहीं सकता ऐसे में आप पूरी तरह बर बाद हो सकते है इसलिए उधार के पैसे मागने में कभी भी शर्म न करे क्योकि वह आपका पैसा है.