लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजे आ गए हैं. नतीजों से पहले और बाद में EVM पर सवाल उठाने वाले लोग हैं. अब इसको लेकर एक और आँकड़ा पेश किया जा रहा है. ये आँकड़ा है पोस्टल बैलेट में पड़े वोट का. पोस्टल बैलेट की अधिकतर सीटों पर समाजवादी पार्टी और उसके गठबंधन ने शानदार जीत हासिल की है वहीं भाजपा गठबंधन इसमें बहुत पीछे है.

समाजवादी जन परिषद के अफ़लातून ने इस डाटा को पेश किया है. उन्होंने अपनी फ़ेसबुक पोस्ट में इस डाटा को शेयर करते हुए बताया कि सपा गठबंधन 310 सीटों पर पोस्टल बैलेट में आगे है जबकि भाजपा गठबंधन 91 सीटों पर आगे रहा जबकि कांग्रेस को 2 सीटों पर बढ़त है. अफ़लातून लिखते हैं,”यह किसी भी एक्सिट पोल का पूर्वानुमान नहीं है।यह निर्वाचन आयोग द्वारा जारी परिणाम के आंकड़ों की विशेष प्रस्तुति है।आंकड़े काफ़ी मेहनत से निकाले गए हैं।मेहनत के बावजूद 2 या 3 सीटों की चूक की संभावना है।”

उन्होंने आगे कहा,”यदि सिर्फ डाक से प्राप्त मतपत्रों से परिणाम घोषित किया जाता तब यह परिणाम होता।इस चुनाव में ड्यूटीरत सरकारी कर्मचारियों के अलावा 80 वर्ष से ज्यादा वय के मतदाताओं को भी बैलेट पर वोट देने का विकल्प दिया गया था। बहरहाल किसी भी क्षेत्र में परिणाम पर विवाद की स्थिति में VVPAT में गिरी पर्चियों की गिनती की मांग के लिए दलों को सुप्रीम कोर्ट जाना चाहिए।”

उन्होंने आगे कहा,”EVM कुल मत बताता है,गिनती नहीं करता है। VVPAT में प्रकट होने वाले चिह्न से मतदाता को दिए गए वोट को देखने का संतोष मिलता है।दिखने वाली पर्चियां एक मतदाता की संतुष्टि से ज्यादा लाभकारी हैं और उनकी manual गिनती EVM पर भरोसा बढ़ा सकती हैं।”

आपको बता दें कि चुनाव आयोग की वेबसाइट पर जारी अंतिम रिजल्ट के मुताबिक़ भाजपा को 255 सीटें मिली हैं, अपना दल (सोनेलाल) 12, निषाद को 6 सीटें मिली हैं जबकि विपक्षी गठबंधन में सपा को 111, रालोद को 8, और सुभासपा को 6 सीटें मिली हैं. कांग्रेस को 2 और बसपा को एक सीट मिली है. अन्य के खाते में भी एक सीट गई है.