प्रियंका गांधी के ट्वीट पर मचा बवा’ल, ’24 घंटों के अंदर..’

June 23, 2020 by No Comments

को’रो’ना वा’य’रस महामा’री से पूरा देश प्रभावित है। रोज़ बा रोज़ इससे सं’क्र’मित मामलों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। वहीं इस वा’य’रस की च’पेट में आकर म’रने वालों का आंकड़ा भी बढ़ता जा रहा है। आगरा में भी को’रो’ना के प्रको’प में बढ़ोतरी हो रही है, जिसपर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने सोमवा’र यानी 22 जून को ट्वीट कर कहा था कि “आगरा में 48 घंटे में भर्ती हुए 28 को’रो’ना म’रीजों की मृ’त्यु हो गई। यूपी सरकार के लिए कितनी शर्म की बात है कि इसी मॉडल का झूठा प्रचार करके सच दबाने की कोशिश की गई।”

दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश में आगरा जिलाधिकारी ने मंगलवा’र को प्रियंका गांधी के इस ट्वीट पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि 24 घंटों के अंदर कांग्रेस नेता इस बात का खं’डन करें। दरअसल कांग्रेस ने आरो’प लगाया था कि सरकार की नीति ‘जांच नहीं, को’रो’ना नहीं’ पर सवाल किए गए थे, लेकिन सरकार ने अभी तक उनका जवाब नहीं दिया है। को’रो’ना के बढ़ते मामलों में यूपी सरकार ऐसे ही लापरवाही करती रही तो यह बहुत खत’रनाक साबित हो सकता है। आपको बता दें कि प्रियंका गांधी ने ट्वीट करते वक़्त जिस खबर का हवाला दिया था उसके अनुसार आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में 48 घंटों के अंदर 28 को’रो’ना वा’य’रस से सं’क्र’मित म’रीजों की मौ’त हो गई।

Priyanka Gandhi

प्रियंका गांधी के इस ट्वीट पर आगरा के डीएम ने नोट जारी किया है। उन्होंने कहा कि “22 जून को कांग्रेस नेता के आधिकारिक ट्विटर से आगरा से जुड़ा जो पोस्ट किया गया उससे पहली नजर में भ्रम की स्थिति पैदा हुई। इससे लोगों के बीच संदेश गया कि 48 घंटे में को’रो’ना से 28 पॉजिटिव म’रीजों की मौ’त हुई। जबकि पिछले 48 घंटों में 28 लोगों की मौत की खबर असत्य और निराधा’र है।” डीएम ने कहा कि “इस वक्त सभी भारतीय को’विड-19 सं’क्र’मण को फैलने रोकने के लिए लड़ रहे हैं। ऐसे में आपका ट्वीट को’रो’ना वॉ’रियर्स/को’रो’ना फाइटर्स और लोगों के बीच प्रतिकूल प्रभाव व भ’य का वातावर’ण पैदा करता है।” आगे उन्होंने कहा कि “सच्चाई ये है कि पिछले 109 दिनों में आगरा जनपद में 1139 केस सामने आए और कुल 79 मरीजों की को’रो’ना से मौ’त हुई है। इसलिए कांग्रेस नेता 24 घंटे में इस भ्रामक और असत्य खबर का खं’डन सुनिश्चित करें।”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *