BycottQatarAirways वाले वासुदेव को क़तर एयरवेज़ ने भेजा एक सन्देश, 624 रुपये का उन्होंने….

पैगंबर मोहम्मद ﷺ पर अपमानजनक टिप्पणी किए जाने का मामला अब भी चर्चा में बना हुआ है ये कॉमेंट करने वालीं नूपुर शर्मा को बीजेपी ने सस्पेंड कर दिया है इसके बाद भी अरब और मुस्लिम बहुल देशों की तरफ से कड़ी प्रतिक्रियाओं का आना बंद नहीं हुआ है। इन देशों में कतर भी शामिल है उसने तो पूरे मामले पर भारत सरकार से ही माफ़ी मांगने को कह दिया था.

उसके इस रुख के बाद भारत के सोशल मीडिया यूज़र्स का एक वर्ग ट्विटर पर कतर एयरवेज के बॉयकॉट की मांग करने लगा। लेकिन, इस सब के बीच ये मांग मज़ाक का विषय बन गई वजह जिस हैशटैग ‘BycottQatarAirways’ को ट्रेंड किया गया, उसमें बॉयकॉट (Boycott) की स्पेलिंग ही गलत थी ऊपर से एक कतर एयरवेज के शीर्ष पदाधिकारी का एक वीडियो भी सामने आया, जिसके साथ ‘खेल’ किया गया ।

दरअसल भारतीय ट्विटर यूजर द्वरा #BycottQatarAirways के साथ एक वीडियो शेयर किया जा रहा था इसमें उन्होंने क़तर एयरवेज के बहिष्कार की मांग की। इस वीडियो को अहद नाम के ट्विटर हैंडल ने रीट्वीट करते हुए कतर एयरवेज के सीईओ अकबर अल बकर का एक पुराना इंटरव्यू शेयर किया. इसमें अल जजीरा के पत्रकार एंड्र्यू सिमंस कतर एयरवेज के सीईओ से सवाल करते हैं कि ये खबर सुनते ही उनके दिमाग में क्या आया?
अकबर अल बकर कहते हैं।

मैंने अपनी सारी मीटिंग्स कैंसिल कीं और सीधे कतर चला आया. मैंने ऐसा इसलिए किया क्योंकि मेरी एयर लाइंस के सबसे बड़े शेयर होल्डर वासुदेव ने छत पर बने अपने हेडक्वाटर से कतर एयरवेज के बायकॉट का ऐलान कर दिया. वासुदेव हमारी कम्पनी के सबसे बड़े शेयर होल्डर हैं. उन्होंने हमारी कम्पनी में 624 रुपए 50 पैसे का बड़ा इंवेस्टमेंट किया है.

उनके बॉयकॉट की वजह से अब हमें समझ नहीं आ रहा कि हम कैसे अपना बिजनेस करेंगे, क्योंकि हमारी सभी फ्लाइट्स जमीन पर आ गई हैं, सभी काम रुक गए हैं. इसलिए हम वासुदेव से विनती करते हैं कि वे बॉयकॉट का अपना निर्णय वापस लें. ये एक नए तरह का और एक अलग लेबल का बॉयकॉट है जिसकी स्पेलिंग ‘bycott’ है. वासुदेव जी हमारी इच्छा आपको एक नया प्लेन देने की है जिसमें आप अपने टिक टॉक वीडियो बना सकेंगे. आप हमसे दो लीटर पेट्रोल भी फ्री ले सकते हैं. वासुदेव जी, अब आप अपना बॉयकॉट का ऐलान वापस ले लीजिए, वर्ना हम कैसे सर्वाइव करेंगे.’

अब तक तो आप भी समझ गए होंगे कि वीडियो के साथ क्या खेल किया गया है असल में कतर एयरवेज के सीईओ अकबर अल बकर का अल जजीरा को दिया गया ये वीडियो इंटरव्यू जून 2017 का है ये इंटरव्यू उस समय लिया गया था, जब सऊदी अरब और उसके मित्र देश – यूएई, बहरीन और मिस्र – ने भी कतर की उड़ानों के लिए अपना एयर स्पेस बंद कर दिया था ये फैसला कतर एयरवेज के लिए बड़े झटके जैसा था।

अहद नाम के ट्विटर हैंडल से इस वीडियो इंटरव्यू को एडिटिंग के बाद शेयर किया गया है यानी वीडियो में बोलते हुए तो अकबर अल बकर ही दिख रहे हैं, लेकिन इसमें तकनीक के जरिए उनकी आवाज को रिप्लेस कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.