पीस पार्टी के सुप्रीमो ने AIMIM से गठबंधन के लिए दिया कुरान का हवाला, लोग देने लगे प्रतिक्रिया, नबी….

October 23, 2021 by No Comments

उत्तर प्रदेश के 2022 विधानसभा चुनाव को लेकर सारी पार्टियों ने तैयारियां शुरू कर दी हैं जहां एक तरफ ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन के सुप्रीमो असदुद्दीन ओवैसी ने चुनावी सभाएं करना भी शुरू कर दी और लगातार उत्तर प्रदेश का दौरा कर रहे हैं । वहीं राष्ट्रीय उलमा काउंसिल और पीस पार्टी ने भी 2022 के चुनाव को लेकर पिछले महीने एक यूनाइटेड डेमोक्रेटिक एलायंस नाम से गठबंधन बनाया है ताकि वोटों का बिखराव रोका जा सके।

पीस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर अयूब ने सोशल साइट ट्विटर पर पोस्ट करते हुए ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन इत्तेहाद करने की गुजारिश की है जिसके लिए उन्होंने कुरान का हवाला भी दिया है उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा । रब का हुक्म मोमिन आपस में भाई,नबी स० का हुक्म अपने भाई की मदद कर ज़ालिम हो या मज़लूम।अवाम दिल से चाहती है,पीस पार्टी व AIMIM साथ मिलकर चुनाव लड़ें।फिर पीस पार्टी/AIMIM एक दूसरे के मुख़ालिफ़ क्यों ? पीस पार्टी
मोमिनो, दलित-पिछड़ों की पार्टियों के साथ चुनाव लड़ने की हिमायत करती है।

जिस पर लोगों ने प्रतिक्रिया देना शुरू कर दिया कई लोगों ने इनकी बात को समर्थन किया और कई लोगों ने उन पर ही सवाल खड़ा करना शुरू कर दिया अब्दुल्ला नाम के व्यक्ति ने लिखा है कि मुझे उम्मीद है गठबंधन जरूर होगा और अगर तीनों पार्टियों ने मिलकर चुनाव लड़ा उत्तर प्रदेश में बहुत बड़ी कामयाबी मिलेगी।

इम्तियाज अहमद नदवी ने प्रतिक्रिया देते हुए लिखा है। वो तो कहते है जब AIMIM आगयी तो सारी पिछ्ली कयादते अपने आप खत्म हो गई है। जैसे मोहम्मद स॰ के आने के बाद पिछ्ले तमाम नबियो की किताबे मन्सूख हो गई है। यह मै नही Aimim के लोग कहते है जैसा कि आपके कमेंट मे भी बहुतो ने लिखा है।

अक्सर लोगों की राय यही है कि AIMIM पीस पार्टी और RUC (राष्ट्रीय उलामा कौंसिल ) मिलकर चुनाव लड़ेंगे तो ही यूपी के 2022 चुनाव में अच्छा प्रभाव डाल सकते हैं वहीं दूसरी तरफ AIMIM के सहयोगी दल सुहेलदेव पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर पिछले दिनों अखिलेश यादव से मुलाकात की है सूत्रों के अनुसार जल्दी ही उनकी पार्टी समाजवादी पार्टी से गठबंधन करेगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published.