धारावी. महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव का रंग अब चढ़ चुका है. विधानसभा चुनाव में नेताओं का प्रचार करने का सिलसिला तेज़ हो गया है. मुंबई में भी बड़े नेताओं ने रैलियां की हैं. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने धारावी में एक रैली को संबोधित किया. उन्होंने यहाँ केंद्र की मोदी सरकार को भी घेरा और राज्य की देवेन्द्र फडनवीस सरकार को भी आलोचना के घेरे में लिया.

राहुल भाषण के दौरान अचानक कुछ वक़्त के लिए रुक गए. असल में उन्होंने अपना भाषण अज़ान के लिए रोक दिया. अज़ान ख़त्म हुई तो ‘राहुल ज़िन्दाबाद’ के नारे गूँजने लगे. राहुल ने तक़रीबन पाँच मिनट तक अपना भाषण रोके रखा.भाषण शुरू होने के बाद राहुल ने फिर अपने तेवर दिखाए और भाजपा पर जम कर हमला बोला.

राहुल ने कहा,”पूरा देश जानता है कि राफेल मामले में चोरी हुई है। रक्षा मंत्रालय के लोगों ने प्रधानमंत्री के दखल की बात स्वीकारी है। राफेल इनको चुभ रहा है, इसलिए राजनाथ जी को फ्रांस जाना पड़ा। लेकिन, सच्चाई से ये भाग नहीं पाएंगे”.उन्होंने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के उस बयान का भी ज़िक्र किया जिसमें उन्होंने कहा था कि GST में कुछ ख़ामियाँ हैं लेकिन संसद ने पास किया है तो इसे बदला नहीं जा सकता.

राहुल ने कहा,”वित्त मंत्री कहती है कि जीएसटी कानून है, इसे बदल नहीं सकते। मनरेगा, भोजन का अधिकार भी कानून थे, मगर इन्होंने उनको बदल दिया। आदिवासी बिल को भी बदलने जा रहे हैं, मगर गब्बर सिंह टैक्स को ये नहीं बदलेंगे.” उन्होंने कहा,”कुछ समय से दिल्ली और महाराष्ट्र में भाजपा की सरकार है। इन्होंने बहुत सारे वादे किए थे। मोदी जी कांग्रेस का, मनमोहन सिंह जी का मजाक उड़ाते थे। वो कहते थे कि 70 साल में देश में कुछ नहीं हुआ. चांद पर जाना अच्छी बात है, चांद पर दो दिन में नहीं पहुंचा गया। उसमें सालों की मेहनत है। मगर, चांद पर पहुंचने से भूखे को रोटी नहीं मिलेगी, उसके लिए रोजगार देना पड़ेगा। रोजगार की बात करनी पड़ेगी.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.