मेवात: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने आज हरियाणा में प्रचार के दौरान भाजपा के ख़िला’फ़ जमकर हमला बोला. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों की आलोचना करते हुए कहा कि वो ‘अडानी और अंबानी के लाउडस्पीकर’ हैं. उन्होंने कहा कि अगर अर्थव्यवस्था की यही स्थिति बनी रही तो अगले छह महीनों में पूरा देश एक आवाज में मोदी के खि’लाफ खड़ा होगा.

मेवात के नूंह में एक चुनावी जनसभा में राहुल ने यह दावा भी किया कि प्रधानमंत्री मोदी और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर कुछ उद्योगपतियों के लिए काम कर रहे हैं. उन्होंने आरोप लगाया, ‘नरेंद्र मोदी अडानी और अंबानी के लाउडस्पीकर हैं. दिन भर उनकी बात करते हैं.’ गांधी ने कहा, ‘आप युवाओं को बेवकूफ बनाकर सरकार नहीं चला सकते. सच्चाई सामने आएगी. आप देखेंगे कि क्या होगा.’

Rahul Gandhi- Sonia Gandhi

उन्होंने दावा किया, ‘छह महीने में पता चलेगा और पूरा देश नरेंद्र मोदी के खिला’फ एक आवाज में उठेगा.’ उन्होंने कहा, ‘एक के बाद एक झूठे वादे सुनाई देते हैं. बोला गया कि दो करोड़ रोजगार देंगे, किसानों को सही दाम देंगे. लेकिन कुछ नहीं हुआ. करोड़ों युवा बेरोजगार हैं लेकिन मोदी जी और खट्टर जी एक के एक बाद झूठ बोल रहे हैं.’

राहुल ने अपने प्रत्याशियों के पक्ष में वोट मांगते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी मन की बात करते हैं लेकिन मैं आप से काम की बात करता हूं. गुड़गांव-अलवर रेलवे लाइन और मेवात में विश्वविद्यालय, कोटला झील का विस्तार और मेवात नहर का निर्माण का वादा है. कांग्रेस की सरकार बनी तो ये काम हो जाएंगे. उन्होंने कहा, ‘विचारधारा की लड़ाई है. देश में अलग-अलग धर्म और जाति के लोग रहते हैं. कांग्रेस सबकी पार्टी है. हमारा काम लोगों को जोड़ने का है. बीजेपी और आरएसएस का काम देश को तोड़ने और लोगों को एक दूसरे से लड़ाने का है. वह जहां जाते हैं लोगों को एकदूसरे से लड़ाते हैं.’

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने दावा किया, ‘अर्थव्यवस्था की धज्जियां उड़ा दी गईं. कहीं भी चले जाओ और लोगों से पूछो कि काम कैसे चल रहा है तो सब बोलेंगे कि नरेंद्र मोदी ने बेड़ा गर्क कर दिया.’ उन्होंने कहा, ‘नरेंद्र मोदी ने पहले नोटबन्दी की और कहा कि आतंकवाद खत्म होगा. लाइन में अडानी और अनिल अंबानी नहीं खड़े थे. लाइन में आम लोग खड़े थे. इसके बाद गब्बर सिंह टैक्स लगा दिया. इससे आम लोगों को कोई फायदा नहीं हुआ. सिर्फ देश के 15-20 उद्योगपतियों को फायदा हुआ.’

गांधी ने सवाल किया, ‘ये खुद को देशभक्त कहते हैं लेकिन ये सरकारी कंपनियां अपने उद्योगपति मित्रों को क्यों दे रहे हैं?’ उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर कुछ उद्योगपतियों के लिए काम कर रहे हैं. गांधी ने प्रधानमंत्री पर कटाक्ष किया, ‘वह कभी चांद की ओर जाते हैं तो कभी जिम कार्बेट चले जाते हैं…. बॉलीवुड की बात करते हैं. लेकिन बेरोजगारी के बारे में बात नहीं करते.’

गांधी ने कहा कि इस समय देश बेरोजगारी कि चपेट में है. चुनावी सभा में गांधी कहा,”40 सालों में सबसे ज्यादा बेरोजगारी है. आपने मोदी को ट्रंप, अडानी और अंबानी के साथ देखा होगा , लेकिन किसानों के साथ नहीं देखा होगा,” गांधी ने कहा, ‘हमने कहा था कि देश की अर्थव्यवस्था को चालू करना चाहते हो तो न्याय योजना लागू करना पड़ेगा. किसान, गरीब और मजदूर की जेब में पैसा डालना पड़ेगा. यह सरकार नहीं समझती कि गरीब को पैसा देने से अर्थव्यवस्था को गति मिलेगी.’

Leave a Reply

Your email address will not be published.