राजस्थान में इन दिनों सियासत काफी गर्मा रही है और तरह तरह की बातें भी खुल कर सामने रही है। सीएम अशोक गहलोत और सचिन पायलट के मतभेद भी खुल कर सामने आए। इसी के चलते राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने आज शाम को ही राहुल गांधी ने मिलने का इरादा छोड़ दीया है। मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से बताया जा रहा था कि सचिन पायलट आज शाम को राहुल गांधी से मुलाक़ात करेंगे। लेकिन सचिन पायलट ने इस बात से साफ इनकार कर दिया है और राजिस्थान में सियासी घमा’सान बढ़ती जा रही है।

इस सब से पहले ही एक बड़ी तादाद में कांग्रेस के विधायक मुख्यमंत्री आवास पर पहुंचे मुख्यमंत्री आवास पर विधायक दल की बैठक सुबह 10:30 बजे शुरू होनी थी। लेकिन विधायक दल की बैठक 12 बजे के बाद ही शुरू हुई। और यहां राजिस्थान के सीएम अशोक गहलोत के समर्थन में कांग्रेस के विधायकों के साथ केंद्रीय नेतृत्व द्वारा भेजे गए कांग्रेस के नेता भी नज़र आए। सभी नेताओं ने मीडिया की तरफ विजयी मुद्रा में इशारा किया।

कांग्रेस द्वारा भी इस बात दावा किया जा रहा है कि राजस्थान में गहलोत सरकार को किसी तरह का कोई भी खतरा नही है। इसे सीएम गहलोत का पायलट के खिला’फ शक्ति प्रदर्शन भी माना जा रहा है और इसी के चलते डिप्टी सीएम सचिन पायलट के द्वारा ये भी साफ तौर पर कह दिया गया है कि वो बीजेपी में शामिल नहीं होंगे। कांग्रेस भी डिप्टी सीएम सचिन पायलट (Sachin Pilot) को मनाने में लगी हुई है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला द्वारा भी मीडिया के ज़रिए डिप्टी सीएम सचिन पायलट से अपील की थी की, वह कांग्रेस विधायक दल की बैठक में शामिल हों और खुले मन से पार्टी के सामने अपनी बात रखें। रणदीप सुरजेवाला ने सचिन पायलट के लावा और भी नेताओ से अपील की, कि वह पार्टी से जुड़े किसी भी मुद्दे पर बात करने के लिए स्वतंत्र हैं और अगर उन्हें किसी प्रकार की शिकायत या संदेह हो तो अविनाश पांडे को फोन कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.