ओवैसी के दोस्त ने मिलाया अखिलेश यादव से हाथ, भाजपा के साथ मीम भी….

October 20, 2021 by No Comments

उत्तर प्रदेश की राजनीति में भारतीय जनता पार्टी और समाजवादी पार्टी के बीच बीते कई दिनों से आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा है। दरअसल अगले साल उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं। जिसके लिए दोनों राजनीतिक दल एक दूसरे के खिलाफ बयान बाजी करते हुए नजर आ रहे हैं।

माना जा रहा है कि इस बार के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी का पलड़ा भारी हो सकता है। दरअसल बीते कुछ महीनों से उत्तर प्रदेश में घट रही घटनाओं की वजह से भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ जनता में भारी रोष देखने को मिल रहा है।

इसी बीच भाजपा को समाजवादी पार्टी ने एक और बड़ा झटका दिया है। खबर के मुताबिक भाजपा की पूर्व सहयोगी पार्टी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी ने समाजवादी पार्टी से गठबंधन कर लिया है। जिसका ऐलान जल्द ही सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और भाजपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर द्वारा प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए किया जाएगा।

खबर के मुताबिक दोनों राजनीतिक दलों के नेताओं के बीच 14 सीटों पर सहमति बन गई है। बुधवार को अखिलेश यादव से मुलाकात कर ओमप्रकाश राजभर ने सियासी गलियारों में हंगामा मचा दिया था इसके पहले भी कई बार ओमप्रकाश राजभर के भाजपा के साथ गठबंधन करने जा रहे थे।

 

इस संदर्भ में समाजवादी पार्टी ने अपने ऑफिशियल अकाउंट की जानकारी दी है। समाजवादी पार्टी के द्वारा ट्वीट कर लिखा गया है कि वंचि’तों, शो’षितों, पि’छड़ों, द’लितों, महिलाओं, किसानों, नौजवानों, हर कमजोर वर्ग की लड़ाई समाजवादी पार्टी और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी मिलकर लड़ेंगे। सपा और सुभासपा आए साथ, यूपी में भाजपा साफ!

अखिलेश यादव से मुलाकात के बाद ओमप्रकाश राजभर ने बयान दिया कि आज अखिलेश यादव से मुलाकात हुई। हमने गठबंधन के लिए सपा, बसपा, कांग्रेस और भाजपा को निमंत्रण दिया था।

अखिलेश यादव ने हमारे न्योते को स्वीकार किया। हमारी उनसे एक घंटे बात हुई। 27 तारीख को महापंचायत रखी गई है जिसमें वंचित, दलित और अल्पसंख्यक वर्ग के लोग शामिल होंगे। सीटों के लिए 27 के बाद बैठ कर बात कर लेंगे। उन्होंने कहा कि सपा एक सीट भी नहीं देगी तो भी हम उनके साथ रहेंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *