अभिनेता विनोद महरा ने बहुत कम फिल्मों में काम किया है, लेकिन वह हमेशा चर्चा में रहे हैं,वह अपनी फिल्मों से ज्यादा अपनी जिंदगी को लेकर हमेशा चर्चा में रहे हैं.विनोद महरा जितने भी फिल्मों में काम किया है,वह सब यादगार है. उनकी फिल्मों में अलग अलग किरदार हैं जिन्हें आज भी लोग बहुत पसंद करते हैं.उनकी जिंदगी से जुड़े कई किस्से हैं।

जो उनके दोस्त आज भी लोगों को सुनाते रहते हैं. और उनके बारे में बात करते रहते हैं.आप को बता दें कि विनोद मेहरा का जन्म 13 फरवरी 1945 को अमृतसर में हुआ था.

यह बचपन से ही अदाकारी की दुनिया में जाना चाहते थे,और एक दिन इसके लिए यह मुंबई पहुँच भी गए और अपने सपने को साकार किया. इन्होने साल 1958 में उन्होंने फिल्म रागिनी से अपने करियर की शुरुआत की.

रागीनी फिल्म में लोगों ने इन की अदाकारी को खूब पसंद किया और इन को सराहा गया.इस फिल्म के बाद इन्हें कई फ़िल्में मिलीं,जिन में इन्होने काम किया,इसके बाद यह लड़कियों की पसंद बन गए थे, और कई लड़कियां इन पर अपना दिल हा,र बैठी थीं।

लेकिन इन्होने आखिर में मीना ब्रोका से शादी कर ली. इस शादी में इन की माँ की मर्ज़ी शामिल नहीं थी,इसके बावजूद माँ के फैसले के खिला,फ जाते हुए इन्होएँ मीना ब्रोका से शादी की थी.

लेकिन यह शादी बहुत दिनों तक नहीं चल पाई, और आखिर में यह दोनों अलग हो गए और फिर विनोद ने अभिनेत्री बिंदिया गोस्वामी से शादी कर ली.पहले तो यह दोनों कुछ दिन तक रिलेशन में रहे।

उसके बाद इन दोनों ने अपने प्यार के बारे में दुनिया वालों को बता दिया.और इन दोनों ने शादी कर ली. लेकिन शादी भी सिर्फ चार साल तक चली, और उसके बाद यह दोनों अलग हो गए.

इसके बाद विनोद ने 1988 में किरण से की जिससे दोनों के दो बच्चे हुए.इस शादी के बाद विनोद बहुत खुश रहते थे, लेकिन शादी के कुछ साल भी ही इन का निध,न हो गया. और यह इस दुनिया से चले गए.

आप को बता दें कि विनोद महरा की एक और पत्नी रही हैं, लेकिन उन्हें कभी पत्नी का दर्जा नहीं मिला. यासीर उस्मान की किताब ‘रेखा: एन अनटोल्ड स्टोरी’ के मुताबिक विनोद ने रेखा से भी शादी की थी. कहा जाता है कि जब विनोद ने रेखा से शादी की और उन्हें लेकर अपने घर गए।

रेखा जब घर पहुँचीं, तो विनोद के माँ की पैर छूने लगीं, जिस पर उनकी माँ ने उन्हें लात मा,रा, और वहां से हटा दिया. विनोद की माँ ने रेखा को कुबूल नहीं किया.और कहा कि वह यहाँ से चली जाए. इसके बाद रेखा वहां से चली गईं, और बाद में विनोद और रेखा ने समझौता कर के इस शादी को तोड़ दिया था.