नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी में बड़े ज़ोर-शोर से शामिल हुईं लोक गायिका और नृत्यांगना सपना चौधरी ने कुछ ऐसा कर दिया है जिसके बाद भाजपा के कान खड़े हो गए हैं. भाजपा नेता सपना चौधरी के इस रवैये से ख़ुश नहीं हैं. उन्होंने कुछ ऐसा कर दिया है जिसकी उम्मीद भाजपा तो क्या भाजपा के विरोधियों ने भी नहीं की होगी.

असल में हरियाणा विधानसभा चुनाव को लेकर सपना ने भाजपा अक प्रचार तो किया लेकिन एक विधानसभा में उन्होंने भाजपा के बजाय प्रतिद्वंद्वी उम्मीदवार का ही प्रचार कर दिया. भाजपा सूत्र बताते हैं कि इस बात से पार्टी के वरिष्ठ नेता ख़ुश नहीं हैं. लोकल कार्यकर्ताओं ने भी मांग की है कि सपना चौधरी पर कार्यवाई की जाए. सपना ने हरियाणा विधानसभा चुनाव में एक प्रतिद्वंद्वी पार्टी के प्रत्याशी गोपाल कांडा का प्रचार कर हलचल मचा दी है.

छीछा-लेदर होने पर पार्टी ने सपना के चुनाव प्रचार पर रोक तो लगा दी लेकिन जो नुक़सान हो गया है उसकी भरपाई कैसे हो ये पार्टी समझ नहीं पा रही है. सपना ने सिरसा से हरियाणा लोकहित पार्टी के प्रत्याशी कांडा के लिये प्रचार किया था. कांडा हरियाणा सरकार में मंत्री रह चुके हैं और राज्य की राजनीति में एक प्रभावशाली नेता माने जाते हैं. कांडा का नाम तब भी सुर्ख़ियों में आया था जब उनकी विमानन कम्पनी की महिला कर्मचारी ने ख़ुदकुशी कर ली थी.

सपना के सहयोगी बताते हैं कि चूंकि कांडा बतौर निर्दलीय मैदान में हैं तो उनके लिए प्रचार किया जा सकता है. वहीँ सपना के रोड शो का वीडियो वायरल हो गया है जिसके बाद भाजपा नेताओं के लिए जवाब देना मुश्किल हो गया है. भाजपा के संज्ञान में ये मामला शुक्रवार के रोज़ आया जिसके बाद पार्टी को असहजता का सामना करना पड़ा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.