कोरो’नावाय’रस की इस महामा’री में देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों के लिए 20 लाख करोड़ रुपये का आर्थिक पैकेज घोषित किया है। पीएम मोदी द्वारा दिए जा रहे इस पैकेज को लेकर वि’पक्ष काफी सवा’ल कर रहे है। इनमे से सबसे पहले कांग्रेस ने पीएम मोदी को दो’षी ठहराते हुए कहा कि सरकार ने आर्थिक पैकेज देने के लिए काफी देर करदी उनको ये काम बहुत पहले ही करना चाहिए था। वहीं इस पैकेज को लेकर उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी नरेंद्र मोदी को निशा’ना बनाया।

अखिलेश ने अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए कहा कि “पहले 15 लाख का झू’ठा वादा और अब 20 लाख करोड़ का दा’वा…अबकी बार लगभग 133 करोड़ लोगों को 133 गुना बड़े जुमले की मा’र…ऐ बाबू कोई भला कैसे करे एतबा’र…अब लोग ये नहीं पूछ रहे हैं कि 20 लाख करोड़ में कितने जीरो होते हैं बल्कि ये पूछ रहे हैं उसमें कितनी गोल-गोल गोली होती हैं।” अखिलेश ने अपनी बातों को जारी रखते हुए कहा कि ये सही नहीं है कि हम उन गरी’बों को ही भूल जाए जिनके वोटों के जरिए हम सत्ता में मौजूद है। उस ऊंचा’इयों पर पहुंचने के बाद अब इस परे’शानी भरे माहौ’ल में हमे उनका साथ नहीं छो’ड़ना चाहिए। ये “सबका विश्वास” के नारे के साथ विश्वा’सघा’त है। बता दें कि मंगलवार को प्रधान मंत्री ने लॉ’क डा’उन और इस महामा’री को लेकर लोगों को संबोधित किया और साथ में देश के हा’लातों को सु’धारने के लिए सरकार ने आर्थिक पैकेज का ऐलान किया।

ये पैकेज 20 लाख करोड़ तक का बताया जा रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि इस 20 लाख करोड़ के पैकेज से देश में विका’स की ग’ति को बढ़ा देगा। उनका कहना है कि ये पैकेज देश की GDP का लगभग 10 प्रतिशत है। साथ ही सरकार ने ये भी बोला के ये पैकेज सबसे ज़्यादा उन लोगों के लिए ज़रूरी है जो लोग इस महामारी की वजह से फंसे हुए है। प्रधानमंत्री ने साफ किया इस आर्थिक पैकेज से कुटीर उद्योग, लघु-मंझोले उद्योग, श्रमिक, किसान और मध्यम वर्ग को फायदा मिलेगा। साथ ही आर्थिक पैकेज भारतीय उद्योग जगत को भी नई ताक’त देगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.