सऊदी अरब के पवित्र शहर मदीना को सबसे साफ़ और सुरक्षित शहर माना जाता है, मक्का के बाद मदीना इस्लाम में पवित्र शहरो में दूसरा शहर है, पैगंबर मुहम्मद सल्ल० की दफ़नगाह है आप सल्ल० ने मक्का से हिज़रत करके मदीना आए थे, दोस्तों हाल ही में एक सुर्वे से पता चला है की सबसे सुरक्षित शहरो में मदीना एक नंबर पर है अरबी शब्द अल-मदीना का मतलब “शहर” होता है, इस्लाम के फैलने से पहले यथ्रिब के रूप में जाना जाता था. हर साल लाखो की तादाद में अलग-अलग देशो से लोग हज के दरमियान यहाँ पहुंचते है.

एक अंतर्राष्ट्रीय सर्वेक्षण के मुताबिक सऊदी अरब का मदीना शहर किसी भी अकेली महिला पर्यटक के लिए दुनिया का सबसे सुरक्षित स्थान पाया गया है ब्रिटेन स्थित ट्रैवल इंश्योरेंस कंपनी इंश्योरमाईट्रिप के रिपोर्ट के मुताबिक सऊदी अरब के मदीना शहर को सबसे ज्यादा सुरक्षित माना गया है. इंश्योरमाईट्रिप साइट की खबर के अनुसार अकेले यात्रियों में 84 फीसदी महिलाएं हैं।

उनकी जरूरतों को पूरा करने के लिए, पर्यटकों की इस आबादी के लिए सबसे सेफ जगहों के बारे में जानने के लिए एक अध्ययन किया गया था। 10/10 के समग्र स्कोर के साथ पवित्र शहर मदीना को अकेली महिला यात्रियों के लिए सबसे सेफ शहर के रूप में पाया गया, मदीना शहर को पुरे देश में मर्द और औरतो के लिए रात में अकेले चलने, रहने के मामले में सबसे सुरक्षित शहर के रूप में महसूस किया गया है.

इंश्योरमाईट्रिप अध्ययन की रिपोर्ट के मुताबिक, दुनिया भर में मदीना शहर को सुरक्षित स्थानो में पहला स्थान मिला है, वही दूसरा सबसे सुरक्षित शहर के रूप में थाईलैंड में चियांग माई 9.06/10 के समग्र स्कोर के साथ माना गया है, और वही तीसरे नंबर के सबसे सुरक्षित शहरो में दुबई का नाम आया है दुबई को अकेली महिला यात्रियों के लिए 9.04/10 के समग्र स्कोर के साथ तीसरा सबसे सुरक्षित शहर बताया गया है। इसके उल्टा, महिला एकल यात्रियों के लिए सबसे कम सुरक्षित शहरों के रूप में जोहान्सबर्ग, कुआलालंपुर और दिल्ली को स्थान प्राप्त हुए है।