सऊदी पायलट कैप्टन अब्दुल्लाह बिन सालेह अल-गामदी ने एक वीडियो जारी करके बताया है खादिम हरमेन शरीफैन की हुकूमत की तरफ से मक्का मुकर्रमा को नो फ्लाई जोन किए जाने का मकसद गैर मुस्लिमों को उस मुकद्दस इलाके की फ़िज़ा से गुजरने का मौका ना देना है आपको बता दें अल-गामदी ने यह बात ट्विटर पर जारी किए गए अपने एक वीडियो क्लिप में बताई है।


उन्होंने मक्का मुकर्रमा की फिजाओं में जहाजों के ना गुजरने के हवाले से अब तक जितने दावे किए जा रहे हैं उन तमाम दावों को उन्होंने रद्द कर दिया आपको बता दें उन दावों में एक वजह यह भी बताई जाती है कि मक्का मुकर्रमा में एक खास चुंबक है जिसकी वजह से जहाज वहां से नहीं गुजर सकते आपको बता दें अल-गामदी की इस वीडियो के जारी होते ही वायरल हो गई कुछ ही घंटे में ढाई लाख से ज़्यादा लोगो ने इस वीडियो देख चुके थे ।

अल-गामदी के अनुसार जहाजों के ना गुजरने का दूसरा जो सबसे बड़ी वजह है मक्का मुकर्रमा का पहाड़ी इलाका होना है इस वजह से उसके ऊपर से जहाज के गुज़रने से शोर और झुनझुलाहट पैदा होती है इस से इबादत करने वाले और तवाफ करने वालों का का ध्यान प्रभावित कर सकता है ऐसी जगह पर तमाम लोगों को खामोशी और सुकून की जरूरत होती है ताकि वह सुकून के साथ इबादत कर सकें।

अब्दुल्लाह बिन सालेह अल-गामदी ने साफ तौर पर कहा मक्का मुकर्रमा की फिजा में जहाज के न उड़ने की मनगढ़ंत कहानियों और सोच को खत्म करने के लिए उन्होंने ये वीडियो बनाई है आपको बता दें सोशल मीडिया में इससे पहले कई तरह की खबर वायरल हुई है जिस में तरह-तरह के प्रोपेगेंडा फैलाया जाता रहा है। (साभार- न्यूज़ मेन लाइन)