सीवान. राजद नेता और पूर्व सांसद मुहम्मद शहाबुद्दीन की मौ’त के बाद से ही बिहार की राजनीति ग’रमाई हुई है. सीवान क्षेत्र में शहाबुद्दीन का अलग ही माहौल था इसलिए यहाँ की राजनीति पूरी तरह से स’क्रिय हो गई है. बीजेपी एमएलसी टुन्ना पांडेय (BJP MLC Tunna Pandey) गुरुवार को राजद के पूर्व सांसद मुहम्मद शहाबुद्दीन के नि’धन के बाद अचा’नक उनके बेटे ओसामा शहाब (Osama Shahab) से मिलने पहुंचे. तभी से चर्चाओं का बाजार ग’र्म है.

टुन्ना पांडेय ने कहा कि कि मैं बीजेपी का नेता हूं और सीवान की जनता ने मुझे चुना है. मैं जनता के साथ हूं. टुन्ना पांडेय ने एक प्राइवेट चैनल से बात करते हुए कहा कि ओसामा से आपचारिक मुलाकात के लिए गया था. शहाबुद्दीन के घर से मेरे अच्छे संबंध हैं. मेरे भी तबी’यत ख’राब थी तो जैसे ही ठीक हुआ आज मिलने पहुंचा. आरजेडी में जाने के सवाल पर कहा कि मैं बीजेपी में हूं तो आरजेडी में क्यों जाऊंगा.

टुन्ना पांडेय लगातार सीएम नीतीश कुमार पर क’ड़ा रुख अपनाते हुए हैं और ह’मला कर रहे हैं. उन्होंने नीतीश कुमार को परिस्थितियों का सीएम बताया था. इतना ही नहीं, उनका कहना था, ‘मुझे किसी से ड’र नहीं लगता. मैं नीतीश कुमार के खि’लाफ बोलते रहूंगा, वे मेरे नेता नहीं है. मैं ड’रने वाला नहीं हूं.’

ट्वीट के जरिए नि’शाना साधने वाले BJP एमएलसी टुन्ना पांडे पर बीजेपी ने कार्रवाई करते हुए उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया है. अनु’शासन समिति ने मुन्ना पांडे को 10 दिन के अंदर इस नोटिस का जवाब देने को कहा है और यह भी साफ किया है कि पांडे के जवाब से अगर पार्टी संतुष्ट नहीं होगी तो आने वाले समय में पार्टी टुन्ना पांडे पर अनुशा’सनात्मक कार्रवाई भी कर सकती है.

पांडे के इस ट्वीट को कोट करते हुए जेडीयू नेता उपेंद्र कुशवाहा ने बीजेपी पर निशा’ना सा’ध दिया था. उन्होंने बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल से सवाल पूछा था कि अगर ऐसा बयान जदयू के नेता ने भाजपा या उसके किसी नेता के बारे में दिया होता तो अब तक क्या कार्रवाई नहीं होती. टुन्ना पांडे को लेकर जेडीयू के त’ल्ख तेवर के बाद से बीजेपी बैकफुट पर थी और माना जा रहा था की पार्टी इसे लेकर जल्द कार्रवाई करेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.