पाकिस्तान के नये प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ शादी करने के मामले में अपने पूर्ववर्ती प्रधानमंत्री इमरान खान से भी दो कदम आगे हैं। शहबाज शरीफ राजनीति के अलावा शेर-ओ-शायरी के लिए भी जाने जाते हैं और वो कितने बड़े दिलफेंक हैं, इसका अंदाजा आप इसी से लगा सकते हैं, कि उन्होंने पांच शादियां की हैं।


आइये जानते हैं,पाक पीएम कि निजी जिंदगी कैसी है?
-पंजाब प्रांत के रह चुके हैं मुख्यमंत्री
जैसे भारत में कहावत है, कि जिसने उत्तर प्रदेश जीत लिया,वो दिल्ली जीत जाएगा, ऐसी ही एक कवाहत पाकिस्तान में भी है,कि जो पंबाज जीत जाएगा, वो इस्लामाबाद भी जीत जाएगा।

नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज यानि, पीएमएल-एन ने पिछले 30 सालों में सबसे ज्यादा बार पंजाब फतह किया है और यही वजह है,कि चौथी बार पार्टी की सरकार इस्लामाबाद में बन रही है और प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के छोटे भाई शहबाज शरीफ बन चुके हैं।

जिन्हें पंजाब में अच्छा शासन करने के लिए जाना जाता है। जिंदगी के 70 बसंत देख चुके शहबाज शरीफ पंजाब प्रांत के ही रहने वाले हैं और चीन के साथ काफी करीबी संबंध की वजह से बीजिंग में काफी प्रसिद्ध हैं।

शहबाज शरीफ अपनी जिंदगी से जुड़े कई अहम फैसले खुद अपनी मर्जी के मुताबिक लेने के लिए जाने जाते हैं और उन्होंने अपनी पहली शादी भी अपनी ही मर्जी से की थी।

शहबाज शरीफ को पहली शादी करने के लिए अपने पिता से इजाजत नहीं मिली थी, लेकिन साल 1973 में सिर्फ 23 साल की उम्र में शादी की थी और उस शादी से उन्हें पांच बच्चे हुए।

पहली शादी से हुआ उनका एक बेटा हमजा शरीफ इस वक्त पंबाज प्रांत में अपने परिवार की राजनीतिक विरासत को संभाल रहे हैं। वहीं, शहबाज शरीफ का दूसरा बेटा सुलमान एक बिजनेसमैन हैं।

वहीं,शहबाज शरीफ ने साल 1993 में 43 साल की उम्र में दूसरी शादी की, जिससे उन्हें एक बेटी खदीजा हुआ, हालांकि, बाद में उन्होंने अपनी दूसरी पत्नी को तलाक दे दिया।

शहबाज शरीफ को पाकिस्तान में एक के बाद एक…पांच शादियां करने के लिए जाना जाता है और उन्होंने कुल पांच शादियां की हैं। हालांकि,शाहबाज शरीफ जब दूसरी शादी आलिया हनी कर रहे थे,तो उस वक्त नवाज शरीफ ने उनका भारी विरोध किया था।

लेकिन उन्होंने अपने बड़े भाई की बात नहीं सुनी। नवाज शरीफ ने शहबाज को अपनी दूसरी बीवी को तलाक तक देने के लिए कहा था,लेकिन वो नहीं माने।

शहबाज शरीफ की दूसरी सादी सिर्फ एक साल ही चली और एक बेटी होने के बाद दोनों का तलाक हो गया।
लेकिन, उस वक्त सब हैरान रह गये थे, जब शहबाज शरीफ ने साल 1993 में ही तीसरी शादी भी निलोफर खोसा से कर ली।