लुधियाना, बीते दो दिन पहले मीडिया के चैनल TV-9 भारतवर्ष की ओर से अपने एक प्रोग्राम के प्रसारण के बीच मौलानाओं का ओपिनियन पोल के नाम से किए गए प्रसारण में देश के विभिन्न मौलानाओं के साथ-साथ लुधियाना के प्रसिद्ध शाही इमाम पंजाब मौलाना मुहम्मद उस्मान लुधियानवी के एक भाषण का अंश दिखा कर उनको बदनाम करने के साथ-साथ साजिश के तहत फिरकाप्रस्त ताकतों का निशाना बनाने की साजिश रचने का आरोप लगाया गया है ।

टी.वी-9 भारतवर्ष के खिलाफ आज लुधियाना की ऐतिहासिक जामा मस्जिद में प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए शाही इमाम पंजाब मौलाना मुहम्मद उस्मान लुधियानवी ने कहा कि गोदी मीडिया टी.वी-9 भारतवर्ष ने किसान आंदोलन की कामयाबी पर मेरे भाषण का सिर्फ कुछ सेकंड का भाग प्रसारित करके देश के विभिन्न सम्मानित मुस्लिम विद्वानों के साथ-साथ मुझे भी निशाना बनाया है जो कि लोकतंत्र में किसी कीमत पर सहन नही किया जा सकता।

शाही इमाम मौलाना मुहम्मद उस्मान लुधियानवी ने कहा कि गोदी मीडिया को यह हक किसने दे दिया कि वह जब चाहे किसी की छवि खराब करना शुरू कर दे। उन्होंने कहा कि मीडिया के द्वारा लोकतंत्र में सरकारों के आलोचकों को डराने की कोशिश कामयाब नहीं होगी। शाही इमाम ने कहा कि मुझे गर्व है कि मैं भारत के प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी लुधियानवी परिवार का सदस्य हूं मेरे पुरखों ने भारत की आजादी के लिए एक दो दिन नहीं बल्कि तीन पीढिय़ों ने 150 साल तक अंग्रेज सरकार से लड़ाई लड़ी है।

जन्होने कहा अपने देश के लिए ना सिर्फ अंग्रेजों की जेलों में रहे बल्कि अपनी जानों की कुर्बानियां भी दी हैं शहीद भगत सिंह, गांधी जी, पंजाब केसरी लाला लाजपत राय पंथ रत्न मास्टर तारा सिंह और मौलाना आजाद जैसे महान स्वतंत्रता सेनानियों के कंधे से कंधा मिलाकर अंग्रेजों को भगाया है। शाही इमाम ने कहा कि गोदी मीडिया कान खोल कर सुन ले वो चाहे हमारे खिलाफ जो मर्जी षड्यंत्र रच लें हम देश के लोकतंत्र की रक्षा करने से हटने वाले नहीं।

इस अवसर पर मजलिस अहरार इस्लाम व जामा मस्जिद लुधियाना के प्रवक्ता मुहम्मद मुस्तकीम अहरारी ने कहा कि बीते एक वर्ष में बार-बार किसान आंदोलन में शामिल होने ओर किसान भाइयों का साथ देने की वजह से गोदी मीडिया के इस चैनल ने शाही इमाम साहिब को निशाना बनाया है। उन्होंने कहा कि शाही इमाम पंजाब मौलाना मुहम्मद उस्मान लुधियानवी की छवि खराब करने की इजाजत किसी को नहीं दी जा सकती।

उन्होंने कहा कि टी.वी-9 भारतवर्ष में इस तरह नंबर लगा कर शाही इमाम साहिब के खिलाफ प्रचार किया गया है मानो जैसे किसी बहुत बड़े अपराधी को दिखाया जा रहा हो। मुस्तकीम ने कहा कि इस प्रसारण से एक बात साफ नजर आ रही है कि गोदी मीडिया और विशेष कर टी.वी-9 भारतवर्ष पंजाब के शाही इमाम मौलाना मुहम्मद उस्मान लुधियानवीं की शख्सियत का अक्स खराब करने के साथ-साथ फिरकाप्रस्तों के हाथों उनको नुकसान पहुंचाना चाहता है ।

इस अवसर पर लुधियाना जामा मस्जिद के कानूनी सलाहकार एडवोकेट अमनदीप सिंह ने बताया कि इनके मुअकिल की तरफ से टी.वी-9 भारतवर्ष के खिलाफ 100 करोड़ रुपए की मानहानि का दावा किया गया है। यही नही बल्कि TV-9 भारतवर्ष पर झूठ पर आधारित प्रोग्राम करने के आरोप में शाही इमाम की ओर से जिला अदालत में 100 करोड़ रुपए की मानहानि के दावे के साथ-साथ लुधियाना पुलिस को धार्मिक भावनाओं को भडक़ाने और झूठा प्रचार प्रसार करने के आरोपों के तहत मुकदमा दर्ज करने के लिए शिकायत दी जाएगी।