महाराष्ट्र में इस चुनाव के नती’जे आने के बाद से ही एक अलग तरह का सिया’सी माहौल देखने मिला, जिसमें आ’ख़िर शिवसेना- NCP- कांग्रेस की सरकार बनी। जब से भाजपा को महाराष्ट्र में अपनी सरकार बनाना मुश्कि’ल लगने लगा तभी से भाजपा की ओर से शिवसेना को लेकर अलग-अलग तरह के ब’यान दिए जा रहे हैं और अब जब अजित पवार ने भाजपा का साथ छो’ड़ दिया तो भाजपा की ओर से शिवसेना के लिए कई बातें कही जा रही हैं। यहाँ तक कि अजीत पवार के इस्ती’फ़ा देने के बाद जब देवेंद्र फडनवीस मीडिया के सामने आए तो भी उन्होंने इस्ती’फ़ा देने की घो’षणा से पहले शिवसेना को धोकेबा’ज़ बताने में क’सर नहीं छो’ड़ी।

साथ ही शिवसेना-NCP- कांग्रेस गठबंधन से बनी महा विकास अघाड़ी सरकार के लिए भी बधाई देने से पहले ही देवेंद्र फडनवीस ने ये कहा कि “देखते हैं ये तीन पहिए की सरकार कब तक चलती है”। उन्होंने ये भी कहा कि तीनों पार्टी की विचारधा’रा अलग है ये स’त्ता के लिए साथ आए हैं”। ये कहते समय देवेंद्र फडनवीस ये भू’ल गए कि भाजपा और NCP की विचारधा’रा भी अलग है लेकिन वो कुछ दिन पहले NCP से गठबं’धन करके मुख्यमंत्री प’द की श’पथ भी ले चुके थे और NCP के सहयोग से गठबं’धन सा’बित करने के लिए भी तै’यार थे।

devendra Fadnvis

देखा जाए तो भाजपा की ओर से शिवसेना को बधाइयाँ तो दी जा रही हैं लेकिन बधाई के साथ कुछ न कुछ ब’यान साथ आ रहे हैं। एक न्यूज़ पैनल ब’हस के दौ’रान भाजपा के नेता संबित पात्रा ने कहा कि “यहाँ उद्धव ठाकरे को महाराष्ट्र से बड़ा बना दिया गया है। ऐसे क्यों किया गया कि एक आदमी राज्य से बड़ा हो गया”। इसके साथ ही वो शिवसेना के सेक्यू’लर होने की बात पर भी बार-बार प्र’हार करते दिखे। इस बात ओर जब उन्हें ये कहा गया कि “आप शिवसेना के सेक्यू’लर हो जाने पर दुहा’ई दे रहे हैं तो आप ये कह दीजिए कि आप सेक्यू’लर नहीं हैं”। तो वो अचानक भड़क गए और बोल उठे “अरे जयचंदों चु’प हो जाओ बैठ जाओ। शिवसेना हिं’दुत्व वादी पार्टी है वो सेक्यू’लर नहीं हो सकती”

इस बात पर जब उनसे पूछा गया कि आप अगर हिंदुत्व को सेक्यूल’रिज़्म के साथ नहीं जो’ड़ सकते तो भाजपा के बारे में आपका क्या कहना है? इस मामले पर अचानक उनके ते’वर बदल गए और उन्होने कहा कि “हिं’दुत्व के तो रग-रग में सेक्यूल’रिज़्म है” इस जवाब पर उनको फिर सवा’ल किया गया कि “अगर आप ऐसा कह रहे हैं तो फिर शिवसेना तो वैसे ही सेक्यू’लर पार्टी हो गयी तो फिर आप किस बात पर बह’स कर रहे हैं”

Sambit Patra

इस पूरी बह’स के दौ’रान लगा जैसे भाजपा की हा’र से वो तिलमि’ला उठे हैं। इतना ही नहीं संबित पात्रा ने उद्धव ठाकरे पर क’ड़ा ब’यान देते हुए कहा कि “उद्धव ठाकरे के  लिए पहले परिवार है फिर पार्टी है फिर राज्य है, हम महाराष्ट्र की चिं’ता कर लेंगे, पहले भी करते थे। वो अपना परिवार और पार्टी सम्भाल लें”। इस पूरे वाक़ये से ये नज़र आ रहा है कि देश की बड़ी पार्टियों में से एक भाजपा हा’र को स्वीकार करने में कमज़ो’र सा’बित हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.