भाजपा पर शिवसेना का करारा ह’मला, जब तक केंद्र में मोदी-शाह हैं तब तक…

May 20, 2021 by No Comments

महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ महाविकास आघाडी सरकार और भारतीय जनता पार्टी के बीच तनातनी का माहौल बना रहता है। हालांकि बीते दिनों महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने को’रोना महामा’री के दौरान केंद्र सरकार द्वारा राज्य के लिए उठाए गए कदमों का स्वागत किया था

इस दौरान मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का धन्यवाद भी किया था। आज एक बार फिर शिवसेना ने भाजपा पर हमला बोला है। दरअसल पश्चिम बंगाल में चल रही सीबीआई की कार्यवाही और राज्य के राज्यपाल की भूमिका को लेकर शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में भारतीय जनता पार्टी पर एक बार फिर से करारा ह’मला बोला है।

बताया जा रहा है कि सामना में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तुलना गाजा से और केंद्र सरकार की तुलना इजराइल से की गई है। सामना के संपादकीय में शिवसेना ने कहा है कि इजरायल और गाजा के बीच संघर्ष इतना ही तीव्र संघर्ष फिलहाल पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और केंद्र में सत्तारूढ़ मोदी सरकार के बीच शुरू हो चुका है।

जब तक केंद्र में पीएम मोदी और गृहमंत्री हमेशा है तब तक तो इस संघर्ष का अंत नहीं होगा। संपादकीय में पश्चिम बंगाल में सीबीआई की कार्रवाही को लेकर कहा गया है कि बंगाल चुनाव में बीजेपी की दयनीय पराजय हुई, परंतु भारतीय जनता पार्टी पराजय स्वीकार करने को तैयार नहीं है तथा केंद्रीय जांच एजेंसियों के मार्फत ममता बनर्जी पर हमले जारी ही रखे हैं।

इस पूरे झ’गड़े में प्रधानमंत्री मोदी का नाम खराब हो रहा है। सोमवार को कोलकाता में जो हुआ, वह देश की प्रतिष्ठा को शोभा नहीं देता है। वहीँ पश्चिम बंगाल में राज्यपाल की भूमिका को लेकर संपादकीय में कहा गया है कि राज्यपाल का बर्ताव संविधान से परे है। ऐसे राज्यपाल को गृह मंत्रालय द्वारा तुरंत वापस बुला लिया जाना चाहिए।

वहीं से संपादकीय में पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ को लेकर भी कहा गया है कि उनका राजनीतिक और सा’माजिक जीवन बहुत ज्यादा उज्जवल कभी भी नहीं था। उन्होंने राजनीति में कोई बड़ा काम नहीं किया है।

इसलिए केंद्र ने एक महिला मुख्यमंत्री को प्र’ता’ड़ित करके दिखाओ, ऐसी विशेष जिम्मेदारी दी गई होगी, तो राष्ट्रीय महिला आयोग को इस महिला पर अ’त्या’चार को भी गं’भी’रता से लेना चाहिए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *