अफगानिस्तान में सरकार बनने के बाद ता’लि’बान का भारत के खिलाफ पहला कदम, आईपीएल को लेकर….

September 21, 2021 by No Comments

बीस के साल के बाद अमरीका और इत्तेहादी देश अफगानिस्तान से वापस चले गये जिस बात का अंदाज़ा था कि अमरीका की वापसी के बाद देश में स्टूडेंट वापस आजायेंगे वही हुआ जबकि अमरीका के खुफिया एजेंसियों ने रिपोर्ट में बताया था अफगानिस्तान में स्टूडेंट्स की वापसी में दो से तीन साल लग सकता है लेकिन तमाम रिपोर्ट गलत साबित हुई और 15 अगस्त को स्टूडेंट्स राजधानी काबुल पहुंच गए उनकी वापस पर जैसा लग रहा था जो आज़ादी पहले थी वो आज़ादी अब वहां नही मिलने वाली है ।

अब आईपीएल को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के पूर्व मीडिया मैनेजर और पत्रकार, एम इब्राहिम मोमंद ने अपने एक ट्वीट में इस बात की जानकारी दी है. उन्होंने लिखा, “अफगानिस्तान में आईपीएल 2021 के ब्रॉडकास्ट पर रोक लगा दी गई है आईपीएल के मैचों के दौरान इस्लाम-विरोधी कंटेंट के प्रसारित होने की आशंका के चलते ये फरमान सुनाया गया है” उन्होंने यूएई में चेन्नई और मुंबई के बीच खेले गए आईपीएल के दूसरे फेज के पहले मैच के बाद ये ट्वीट किया।

आईपीएल 2021 (IPL 2021) के दूसरा चरण का यूएई में आगाज हो गया है इसी के साथ आईपीएल में फैंस की वापसी भी हो गई है भारत के खेले गए पहले चरण में कुल 29 मैच आयोजित हुए थे अब बाकी बचे 31 मैच यूएई में होंगे आईपीएल हर एक दिन के साथ रोमांचक होता जा रहा है प्‍लेऑफ की जंग और तेज हो गई है जहां दुनियाभर में फैंस आईपीएल के रोमांच में डूबे हुए हैं, वहीं अफगानिस्‍तान में फैंस इस लीग के सीधे प्रसारण का लुत्‍फ नहीं ले पाएंगे।

आपके बता दें कि स्टूडेंट्स शासन ने अफगानिस्तान में महिलाओं के क्रिकेट और अन्य स्पोर्ट्स खेलने पर रोक लगाने का फरमान सुना चुका है ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड (CA) को ये बात नागवार गुजरी और उसने अफगानिस्तान के साथ प्रस्तावित एकमात्र टेस्ट मैच रद्द करने का फैसला किया है ये टेस्ट मैच 27 नवंबर से खेला जाना था अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड (एसीबी) ने CA से अपील की थी कि वो ये मैच रद्द ना करें बोर्ड ने कहा था कि वो, “अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को बदलने में असमर्थ है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.