पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले टाइम्स नाउ और सी-वोटर द्वारा किया गया एक सर्वे सामने आया है। जिसके मुताबिक पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी को पीछे छोड़ते हुए भारतीय जनता पार्टी आगे निकल गई है। विधानसभा चुनाव से पहले तृणमूल कांग्रेस और भाजपा चुनाव प्रचार के लिए काफी सक्रिय नजर आ रहे हैं। ऐसा माना जा रहा है कि राज्य में इस बार दोनों पार्टियों के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिलेगा। जहां पहले नंबर पर लोगों ने पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी को अपनी पहली पसंद बताया है।

वही दूसरे नंबर पर ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस का नाम है। इसके साथ एक समय पर बंगाल में शासन करने वाली लेफ्ट पार्टियां पूरी तरह से पिछड़ चुकी है। आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल चुनाव से पहले हुए इस सर्वे में 41.6 फीसदी लोगों ने भाजपा का समर्थन किया है। जबकि टीएमसी को 36.9 फीसदी जनता का समर्थन मिला है।

टाइम्स नाउ और सी वोटर की तरफ से किए गए इस सर्वे को 24 जनवरी से लेकर 4 फरवरी के बीच किया गया था। भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल कांग्रेस के अलावा कोई और पार्टी जनता के समर्थन के मामले में दहाई के आंकड़े तक नहीं पहुंच पाई है। साल 2011 के बाद से ही लेफ्ट पार्टियों का वोट प्रतिशत पश्चिम बंगाल में काफी गिर चुका है। साल 2015 के चुनाव में लेफ्ट को सिर्फ 19 सीटों पर ही जीत हासिल हुई थी। दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी के तमाम आरोपों के बावजूद ममता बनर्जी

आज भी बंगाल में सबसे पसंदीदा मुख्यमंत्री उम्मीदवार के तौर पर आगे चल रहे हैं। लगभग 50 फीसदी से ज्यादा लोगों ने ममता बनर्जी को मुख्यमंत्री बनते देखने की इच्छा रखी है। भारी तादाद में लोगों द्वारा बतौर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के लिए पश्चिम बंगाल में किए गए विकास की जमकर सराहना की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.