बीते बिहार विधानसभा चुनाव में महागठबंधन और एनडीए में कड़ी टक्कर देखने को मिली थी लेकिन आखिर कार एनडीए ही सरकार बनाने में कामयाब हो पाई. अब बिहार सरकार की कैबिनेट विस्‍तार को लेकर सुग बुगाहत सुनाई दे रही है. हालाँकि इसमें लगातार देरी हो रही है. वहीँ बसपा के एकलौते विधायक ने पहले ही जदयू का दामन थाम लिया है. इसके अलावा निर्दलीय विधायक सुमित सिंह जदयू में शामिल हुए हैं. इस बीच विपक्ष के नेता तेजस्‍वी यादव ने बड़ा बयान दिया है.उन्होंने नई सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि इस सरकार को कई महीने हो गए हैं. लेकिन फिर भी काफी देरी हो रही है और देरी की वजह वही बताएँगे जो चोर रास्ते से सत्ता में आए हैं. राजद प्रवक्‍ता मृत्‍युंजय मिश्रा की तरफ सभी बड़ा बयान सामने आया है. उन्होंने कहा है कि जिस दिन बिहार में कैबिनेट विस्‍तार होगा उसी दिन वहां की सरका गिर जाएगी.

उन्होंने आगे कहा है कि मंत्रियों के नाम को लेकर भारतीय जनता पार्टी और जदयू में सहमती नहीं बन पायेगी. उन्होंने यहाँ तक कह दिया कि भाजपा सीएम नीतीश कुमार को निबटाने की फिराक में लगी हुई है. उधर ओवैसी की पार्टी की तरफ से भी बड़ा बयान आया है. एआइएमआइएम के पांच विधायक बिहार में हैं और पार्टी की तरफ से कहा गया है कि अगर नीतीश कुमार भाजपा से संबंध तोड़ देते हैं तो उनके विधायक नीतीश कुमार को अपना समर्थन दे देंगे.

इसके अलावा डिप्‍टी सीएम तारकिशोर प्रसाद के जनता दरबार में राजद विधायक राज वल्‍लभ यादव की पत्‍नी दो अन्य विधायकों के साथ वहां पहुँच गयी थी जिसके बाद कयास लगाया जा रहा है कि वह जल्द ही भाजपा में शामिल हो सकती हैं.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.