तेजस्वी ने गिराया जदयू का विकेट, नीतीश का साथ छोड़ राजद में शामिल हुए ये दिग्गज नेता…

July 4, 2021 by No Comments

बिहार की राजनीति में इस वक़्त काफी उठापठक का माहौल बना हुआ है। हाल ही में लोक जनशक्ति पार्टी के अंदर घटे सियासी घटनाक्रम ने कई राजनीतिक दलों की मुश्किल बढ़ा दी है। चिराग पासवान को कई राजनीतिक दलों के नेता अपने पाले में लेने की कोशिश में जुटे हुए हैं।

माना जा रहा है कि राष्ट्रिय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव चिराग पासवान के साथ लगातार संपर्क में बने हुए हैं। उन्होंने हाल ही में चिराग पासवान को अपनी छोटा भाई करार दिया है। इसी बीच खबर सामने आई है कि बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कड़ी मशक्कत के बाद आखिरकार जदयू का एक विकेट गिरा ही दिया।

कई दिनों से चल रही खींचतान के बाद शनिवार को महेश्वर सिंह राष्ट्रीय जनता दल में शामिल होने पहुंचे। वे आरजेडी में शामिल होने के लिए राबड़ी देवी के आवास 10 सर्कुलर पहुंचे. कहा जा रहा था कि पूर्व विधायक मंजीत सिंह और महेश्वर सिंह दोनों आरजेडी में शामिल होनेवाले थे. लेकिन सीएम नीतीश ने सेफ प्ले खेलते हुए अपना एक विकेट बचा लिया।

तो वहीं आरजेडी की सदस्यता लेने पहुंचे महेश्वर सिंह ने कहा है कि बिहार में अफसरशाही बेकाबू है। नीतीश कुमार को यह अफसरशाही भारी पड़नेवाली है। बिहार में जिस तरह का माहौल हो गया है। उस माहौल में लोग बदलाव चाहते हैं। हालात अब ऐसे हो गये हैं कि अफसर मंत्री तक की बात नहीं सुन रहे हैं तो ऐसे में जनता की बात सुनना तो बहुत दूर की बात है।

लिहाजा उन्होंने भी लोगों की मांग पर तेजस्वी यादव के नेतृत्व में जनता की सेवा करने का फैसला लिया है। आपको बता दें कि महेश्वर सिंह कभी राम विलास पासवान के सहयोगी थे. बाद में वे जनता दल यूनाइटेड में शामिल हो गये थे। तो वहीं पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में उन्होंने जेडीयू से टिकट नहीं मिलने पर RLSP के टिकट पर लड़ा था।

उन्हें केसरिया विधानसभा सीट से चुनाव में हार का सामना करना पड़ा था. लेकिन अब उन्होंने आरजेडी का दामन थामने का फैसला किया है। इससे पहले नीतीश सरकार में मंत्री मदन साहनी ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

इस्तीफा देने के साथ ही मदन साहनी ने नीतीश सरकार पर कई आरोप लगाए हैं। गौरतलब है कि लालू यादव के बिहार वापसी करने के बाद राज्य में कई सियासी बदलाव होने के कयास लगाए जा रहे थे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *