तेजस्वी को सीएम उम्मीदवार बनाने पर कन्हैया कुमार बोले- इस बार भाजपा को..

October 23, 2020 by No Comments

अगले महीने होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले बिहार में सि’यासी पारा चढ़ता हुआ नजर आ रहा है। इस बार महागठबंधन एनडीए को तगड़ी ट’क्कर देने के मूड में है। जिसके चलते महागठबंधन की तरफ से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव अपनी जन सभाओं और रैलियों में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को घेर रहे हैं।

इसी बीच जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष और कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया के नेता कन्हैया कुमार भी महागठबंधन के लिए चुनाव प्रचार कर रहे हैं। कन्हैया कुमार ने महागठबंधन के सीएम उम्मीदवार तेजस्वी यादव से लेकर चिराग पासवान के अकेले चुनावी मैदान में उतनरे पर अपनी बात रखी है।

इस मामले में सीपीआई नेता कन्हैया कुमार ने यह साफ कर दिया है कि इस बार के चुनाव में भाजपा को रोकना सबसे अहम मुद्दा बन चुका है। बिहार के लोग इस बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर वोट नहीं डालेंगे। हर शख्स के मन में इस बार नीतीश कुमार के खिलाफ गु’स्सा भरा हुआ है। कन्हैया कुमार ने साफ कर दिया है कि इस विधानसभा चुनाव में मुद्दा नीतीश कुमार नहीं है।

बल्कि असली मुद्दा भाजपा को रोकना है। महागठबंधन की तरफ से मुख्यमंत्री उम्मीदवार तेजस्वी यादव को बनाए जाने पर कन्हैया कुमार ने कहा है कि संसदीय लोकतंत्र में सबसे बड़ी पार्टी जो होती है। वहीं से मुख्यमंत्री या प्रधानमंत्री बनता है। ठीक उसी तरह से इस विधानसभा चुनाव में राजद 144 सीटों पर, 70 पर कांग्रेस और 29 में वामदल चुनाव लड़ रहा है – तो जाहिर है कि सीएम राजद से ही होंगे। और यह राजद का फैसला है कि वह किसे सीएम बनाना चाहता है। हम उस फैसले को बदल नहीं सकते।

कन्हैया कुमार ने कहा है कि हमें सांप्रदायिक ताकतों को रोकना है, नवउदारवादी लूट को खत्म करना है और बिहार के विकास के लिए काम करना है। कहा जा रहा था कि यह एकतरफा चुनाव होने जा रहा था और NDA के पास बढ़त है लेकिन जैसे-जैसे चुनाव प्रचार ने रफ्तार पकड़ी है, यह धारणा टूट गई है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *