NDTV से रविश कुमार के इस्तेफ़े की वा’यरल ख’बर का सच आया सामने…

August 24, 2022 by No Comments

मीडिया जगत में NDTV को अपनी साफगोई और सरकार के खिलाफ तीखे तेवर दिखाने के लिए जाना जाता है। लेकिन आज अडानी ग्रुप ने इसे अपने हाथ में ले लिया। NDTV मौजूदा समय में तीन न्यूज चैनलों के साथ डिजीटल मीडिया का सशक्त प्लेटफार्म भी चला रहा है। जाहिर सी बात है कि अब इस मीडिया हाउस के तेवर पहले से नहीं रहेंगे, क्योंकि अडानी को पीएम मोदी का दोस्त माना जाता है।

इस वजह से वो कभी नहीं चाहेंगे कि उनके मीडिया प्लेटफार्म से सरकार के खिलाफ कोई आवाज उठे। वही दोसरी तरफ कुछ पोर्टलों पर NDTV के शेयर को अडानी ग्रुप द्वारा लिए जाने पर NDTV के मशहूर प्रोगराम प्राइम टाइम करने वाले रविश कुमार के इस्तेफ़े की खबर दौड़ने लगी लेकिन रविश कुमार ने इसके बारे में खुद जानकरी दी उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट इस खबर का खंडन किया है उन्होंने अपने निराले अंदाज में पोस्ट करते हुए लिखते हैं।

माननीय जनता, मेरे इस्तीफ़ा देने की बात ठीक उसी तरह अफ़वाह है, जैसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुझे इंटरव्यू देने के लिए तैयार हो गए हैं और अक्षय कुमार बंबइया आम लेकर गेट पर मेरा इंतज़ार कर रहे हैं आपका, रवीश कुमार, दुनिया का पहला और सबसे महँगा ज़ीरो टीआरपी ऐंकर

वही दोसरी तरफ अडानी की इस डील के बाद एक शख्स ने तो NDTV का नामकरण भी कर दिया। उन्होंने अडानी की अगुवाई में चलने वाले चैनल का नाम रखा है Narendra Damodardas TV। उनका कहना था कि देश बेचने के खिलाफ आवाज उठाने वाला चैनल खुद बिक गया। हो सकता है कि मैनेजमेंट की कोई मजबूरी रही हो।

Leave a Comment

Your email address will not be published.