ताडोबा: वेस्ट इंडीज़ दौरे के लिए चयनित न हो पाने के बाद शुबमन गिल ने राष्ट्रीय सिलेक्टर को एक बार फिर से इम्रेस करने की कोशिश की. दमदार बल्लेबाज़ी से उन्होंने चयनकर्ताओं को एक बार फिर से विचार करने पर मजबूर ज़रूर किया होगा. शुबमन गिल के नाबाद दोहरे शतक से भारत की ए टीम ने वेस्टइंडीज़ ए टीम के ख़िलाफ़ तीसरे अनाधिकारिक टेस्ट की दूसरी पारी में 4 विकेट खोकर 3065 रन बना कर पारी घोषित कर दी. इसी पारी में गिल ने वो कारनामा कर दिखाया जो सचिन और विराट कोहली भी न कर सकें.

शुबमन गिल ने तीसरे दिन 248 गेंदों पर खेली नाबाद 204 रन की पारी खेली. इस पारी से उन्होंने ये सन्देश दे दिया है कि उन्हें भारतीय टीम से बहुत दिन तक दूर नहीं रखा जा सकता. शुबमन गिल ने अपनी पारी में 19 चौके और दो छक्के लगाए और इस दोहरे शतक से उन्होंने भारत के पूर्व कप्तान अब्बास अली बेग के रिकॉर्ड को तो’ड़ दिया. इस पारी के साथ उन्होंने अपनी टीम की स्थिति मज़बूत कर दी

बता दें कि शुबमन गिल ने इसी के साथ एक और रिकॉर्ड बना लिया. वह विदेशी धरती पर दोहरा शतक ज’ड़ने वाले भारत के सबसे कम उम्र के बल्लेबाज बन गए हैं. ये इस बारे में भी ख़ास है कि सचिन तेंदुलकर जैसे बल्लेबाज़ ने 16 साल की उम्र में क्रिकेट करीयर की शुरुआत की लेकिन वो भी इस तरह का कारनामा न कर सके.शुबमन गिल ने 19 साल और 334 दिन की उम्र में यह कारनामा किया. आपको बता दें कि गिल से पहले यह रिकॉर्ड भारतीय पूर्व कप्तान अब्बास अली बेग के नाम पर था.

NDTV में छपी ख़बर के मुताबिक़ बेग ने 20 साल 79 दिन की उम्र में साल 1959 में ऑक्सफोर्ड युनीवर्सिटी के लिए खेलते हुए ऑक्सफोर्ड में ही फ्री फॉरेस्टर्स के खिलाफ नाबाद 221 रन बनाए थे. इसके साथ ही उन्होंने भारतीय क्रिकेट के सबसे कामयाब कप्तान रहे सौरव गांगुली की बात को सही साबित किया. गांगुली ने वेस्ट-इंडीज़ दौरे के लिए चुनी गई टीम की आलोचना की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.