पेट द’र्द के चलते महिला पहुंची अस्पताल, जांच में निकला कुछ ऐसा.. डॉक्टर भी रह गए दंग..

June 27, 2020 by No Comments

पिछले 30 सालों से एक शादीशुदा महिला अपना सामान्य जीवन गुज़ार रही थी। लेकिन अचानक एक दिन पेट दर्द के चलते महिला अस्पताल पहुंची और जांच के दौरान हुए खुला’से से वह भी अचांबे में आ गए। जांच में डॉक्टरों को पता लगा की पिछले 30 साल से महिला का जीवन जीने वाली असल में पुरुष है, जो टेस्‍ट‍िकुलर कैं’सर से पीड़ित है। दरअसल यह अजीबोगरीब मामला पश्चिम बंगाल के बीरभूमि जिले से सामने आया है, जहां 30 साल की महिला की शादी को नौ साल बीत चुके हैं। लेकिन पिछले कुछ समय से उसके पेट के निचले हिस्से में द’र्द की समस्या उत्पन्न हुई थी।

गं’भीर द’र्द के चलते उस महिला को कोलकाता के नेताजी सुभाष चंद्र बोस कैं’सर अस्पताल में ले जाया गया था, जहां डॉ. अनुपम दत्ता और डॉ. सौमेन दास ने उस महिला का चेकअप किया। यहीं इलाज के दौरान महिला की असल पहचान सामने आई। वहीं इस महिला को 28 साल की बहन को भी ‘एण्ड्रोजन असंवेदनशीलता सिंड्रोम’ से पी’ड़ित है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि 22 हज़ार लोगों में से सिर्फ एक व्यक्ति इस बीमा’री से पी’ड़ित पाया जाता है। इस अवस्था में शारीरिक रूप से महिलाओं वाले सारे लक्षण होते है, लेकिन असल में वह पुरुष होता है। डॉ दत्ता ने इस बारे में बताया कि “हमने पेट में दर्द की शिकायत के बाद महिला परीक्ष’ण किया तो पता चला कि उसके शरीर के अंदर अंडकोष हैं। एक बायोप्सी की गई थी, जिसके बाद उसे वृ’षण कैं’सर का इलाज किया गया, जिसे सेमिनोमा भी कहा जाता है। वर्तमान में वह कीमोथेरापी से गुजर रही है और उसकी स्वास्थ्य स्थिति स्थिर है।”

Androgen Insensitivity Syndrome

आगे उन्होंने कहा कि “जैसा कि उसके अंडकोष शरीर के अंदर अविकसित रहे, टेस्टोस्टेरोन का कोई स्राव नहीं था। दूसरी तरफ उसकी महिला हार्मोन ने एक महिला का रूप दिया।” डॉ. दत्‍ता ने कहा कि “वह लगभग एक दशक से एक व्‍यक्ति के साथ विवाहित है। वर्तमान में हम रोगी और उसके पति की काउंसलिंग कर रहे हैं और उन्हें सलाह देते हैं कि वे जीवन को सामान्‍य ढंग से जारी रखें।” आपको बता दें इस दंपति ने अतीत में कई बार गर्भ धा’र’ण करने का प्र’यास किया था, लेकिन असफल रहें। ऑन्कोलॉजिस्ट ने कहा कि “म’रीज की दो मौसियों को भी अतीत में एंड्रोजन असंवेदनशीलता सिंड्रो’म का पता चला था।”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *