मुकुल रॉय के TMC में शामिल होते ही भाजपा को मिलने लगे बड़े झटके, अब 300 कार्यकर्ताओं ने…

June 20, 2021 by No Comments

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद राज्य में सियासी बवाल मचा हुआ है। भारतीय जनता पार्टी के कई नेता दोबारा कांग्रेस में शामिल हो रहे हैं इसी बीच भाजपा की मुश्किलें काफी बढ़ चुकी है। जहां चुनाव से पहले टीएमसी से भाजपा जाने वालों की लाइन लगी हुई थी।

अब इसके विपरीत भारतीय जनता पार्टी से वापस तृणमूल कांग्रेस में आने वालों की भगदड़ मची हुई है। तृणमूल कांग्रेस की जीत के बाद भाजपा के खेमे में पहले से ही ख’लब’ली मची हुई थी। बंगाल के बीरभूम जिले में एक साथ तीन सौ भाजपा कार्यकर्ता शुक्रवार को तृणमूल कांग्रेस में वापस लौट आए हैं।

बताया जाता है कि भाजपा के पूर्व नेता मुकुल रॉय की घर वापसी के बाद तृणमूल कांग्रेस मैं घर वापसी का दौर चल पड़ा है। कई भाजपा नेता भी दोबारा कांग्रेस में शामिल होने इच्छा जाहिर कर चुके हैं। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, बीरभूम में तृणमूल कांग्रेस कार्यालय के सामने कम से कम 300 भाजपा समर्थक भू’ख ह’ड़ता’ल पर बैठे थे।

उनकी मांग थी कि उन्हें टीएमसी में वापस लिया जाए। आखिरकार उनके ऊपर गं’गाज’ल छि’ड़क’कर उन्हें वापस बुलाया गया। टीएमसी नेताओं ने कहा कि गं’गाज’ल छि’ड़क’ने के पीछे वजह उनके दू’षि’त हो चुके दिमाग को साफ करना था। इस मामले में प्रदर्शनकारी अशोक मंडल ने कहा है कि हम तृणमूल कांग्रेस में वापस आना चाहते हैं।

भाजपा की तरफ से लगातार विरोध प्रदर्शन के चलते फायदे से ज्यादा हमें नुकसान हुआ है। हम अपने मर्जी के चलते अब उत्तर में कांग्रेस में वापस आना चाहते हैं। वापस आने के लिए हम हड़ताल पर बैठे रहेंगे। भाजपा कार्यकर्ताओं की यह भूख ह’ड़ता’ल सुबह 8 बजे शुरू हुआ और यह तीन घंटे तक 11 बजे तक चला है।

बताया जाता है कि 300 भाजपा कार्यकर्ताओं को तृणमूल कांग्रेस का झंडा थामने वाले बानाग्राम के तृणमूल पंचायत प्रधान तुषार कांति मंडल ने कहा है कि लोग बीते कुछ दिनों से हमारी पार्टी में शामिल होने का अनुरोध कर रहे थे। आज वे पार्टी कार्यालय के सामने धरने पर बैठ गए और वापस लेने की अपील की। मैंने अपने नेताओं से बात की और उन्हें फिर से अपनी पार्टी में शामिल कराया।

गं’गाज’ल के छि’ड़काव पर मंडल ने कहा कि भाजपा एक सां’प्रदा’यिक पार्टी है। उसने अपने ज’हरी’ले विचारों को इनके दिमाग में डाला है और उनकी मा’नसि’क शां’ति को खराब कर दिया है। इसलिए उन पर सभी प्रकार की बु’राइ’यों से छुटकारा पाने के लिए शांति जल छि’ड़का गया।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *