पश्चिम बंगाल विधान सभा चुनाव को लेकर सरगर्मी बानी हुई है आज पहले चरण को वोटिंग चल रही है सभी पार्टियों की किस्मत अब जनता के हाथो में है सभी पार्टियों ने अपने सरे दांव खेल दिए है जनता को लुभाने के लिए, इस चुनाव में TMC और भाजपा की कड़ी टक्कर देखे दे रही है ये चुनावी मुकाबला इन्ही दोनों पार्टियों के बिच दिख रहा है, आज पहले चरण का मतदान जारी है जिसपर सभी की निगाहे तिकी हुई है.

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए 30 सीटों पर वोटिंग प्रक्रिया जारी है, जिसको देखते हुए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं, ताकी किसी तरह की गड़बड़ी ना हो पाए, सुबह 9 बजे तक सब कुछ ठीक चल रहा था, लेकिन उसके बाद जारी आंकड़ों में कम वोटिंग प्रतिशत दिखा, जिसके बाद टीएमसी की टेंशन बढ़ गई, इसके साथ ही टीएमसी ने चुनाव आयोग को एक पत्र लिखा है. जिसमें वोटिंग प्रतिशत में गड़बड़ी का मुद्दा उठाया गया.

साथ ही साथ कई जगहों पर EVM को लेकर भी सवाल उठ रहे है, चुनाव के पहले ही चरण में मतदाताओं ने सनसनीखेज आरोप लगाया है। पूर्व मेदिनीपुर के दक्षिण कांथि विधानसभा क्षेत्र के 71 नंबर बूथ के कुछ मतदाताओं ने आरोप लगाया कि टीएमसी के चुनाव चिन्ह वाली बटन दबाने से बीजेपी को वोट जा रहा है। मतदाताओं के इस आरोप के बाद उक्त बूथ पर मतदान प्रक्रिया रोक दी गई है। टीएमसी ने चुनाव आयोग में शिकायत की है.

टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन के मुताबिक कांठी दक्षिण (216) और कांठी उत्तर (213) के मतदान केंद्रों पर सुबह 9.13 बजे मतदान प्रतिशत क्रमशः 18.47% और 18.95% था, लेकिन चार मिनट बाद 9.17 बजे ये घटकर क्रमशः 10.60% और 9:40% हो गया, पार्टी को इसमें किसी गड़बड़ी का शक है, जिस वजह से चुनाव आयोग को इस पर संज्ञान लेना चाहिए, उन्होंने आगे कहा कि टीएमसी बंगाल में जीतेगी, इसके अलावा बंगाल की बेटी बंगाल के गद्दार को नंदीग्राम से हराएगी,बीजेपी पर उन्होंने कहा कि टूरिस्ट गैंग यहां पर आते हैं और यहां की संस्कृति को नष्ट करते हैं, बंगाल की महिलाएं अपनी इच्छानुसार साड़ी पहनना जारी रखेंगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.