जैसा कि सबको इस बात का इल्म है कि कोरो’ना वाय’रस की वजह से पूरे देश में लॉ’कडा’उन की इस्तिथि बनी हुई है। जिसकी वजह से जो NRC और NPR होने वाली थी वो नही हो पाई इसी के चलते एक ट्रोलर ने अभिनेत्री स्वरा भास्कर को ट्रोल कर कहा कि “6 महीने हो गये देश में  CAA लागू हुए  .. क्या आप हमें बता सकती हैं कि कितने लोगों ने नागरिकता खो दी ? और कितने लोगों को डीटेनशन सेंटर में  भेजा गया हैं?”

हाला की इसमें इतना सोचने वाली कोई बात नही के लॉ’कडा’उन की वजह से NPR नही हो पाया जिसकी वजह से NRC लाना मु’मकिन नहीं है और इसी बात को लेकर स्वरा भास्कर ने ट्रोलर को उसके ट्रोल का एम करारा जवाब दिया। स्वरा भास्कर ने अपने ट्विटर हैंडिल पर ट्वीट कर कहा कि “जब तक एनआरसी नहीं लागू होता (एनपीआर डेटा के माध्यम से), सीएए में संशोधन का भारतीय नागरिकों पर कोई वास्तविक प्रभाव नहीं है, कृपया ट्रोलिंग के लिए अपने दिमाग का उपयोग करें!”

इसी के चलते हाल फिलहाल में अभी एक इंटरव्यू में अमित शाह ने भी एनआरसी को लेकर बात की थी और कहा था कि एनआरसी लाने की अभी कोई बात नही है। गोर करने की बात ये है कि जब नागरीकता संशो’धन विधेयक को देश के राष्ट्रपति ने कानून में बदल दिया और उसके बाद पूरे देश में इसका विरो’ध शुरू हो गया क्योंकि कोई भी इस कानून को मानने के लिए राज़ी नही। लोगो का मानना था CAA लाने के बाद सरकार NRC भी लागू कर देगी। इसी के चलते देश के प्रधानमंत्री ने इन सब बातों को अफ’वाह बता कर खा’रिज कर दिया और कहा कि अभी इस विषय पर कोई बात नही की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.