कोरो’ना वाय’रस के चलते दुनिया के लगभग सभी देश इसकी चपे’ट में आचुके है इसी के चलते दुनिया में सबसे ज्यादा आबादी वाले देशों में दूसरे स्थान पर आने वाला देश भारत भी इसके च’पेट में आ गया है। जैसा कि सब इस बात को जानते है कि यहां सोमवार यानी 8 जून को भारत मे स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा दी गयी रिपोर्ट में ढाई लाख से ज़्यादा केस की पुष्टि की गई है और इसी के चलते इस साल होने वाले इडियन प्रीमियम लीग यानी आईपीएल पर भी ख’तरा मंडराता हुआ दिख रहा है। लेकिन इसी के चलते बतया ये जा रहा है कि दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड के पास इस लीग को आयो’जित करने का एक विकल्प है और बताया ये भी जा रहा है कि इसके चलते आईपीएल के का आयोजन विदेश में होने की संभा’वना है और अमीरात क्रिकेट बोर्ड यानी ईसीबी जो कि दुनिया का सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड है वो  टूर्नामेंट की मेजबानी करने का अवसर प्राप्त करने की कोशिश में लगा हुआ  है।

सूत्रों से बताया जा रहा है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ के अधिकारी अभी इस मसले पर कोई फैसला नही ले रहे है लेकिन बताया ये भी जा रहा है कि इस बार इस लीग का आयोजन विदेशी सरज़मीन पर भी हो सकता है और जैसा के इस बात का ज़्यादातर लोगों को पता है की आईपीएल2020 की शुरुआत 29 मार्च को ही होनी थी मगर कोरो’ना वाय’रस के संक्र’मण को देख कर इस लीग को अनिश्चितकाल के लिए रोक दिया है। वहीं बताया ये जा रहा है कि ईसीबी का कहना ये है कि यूएई यानी दुबई आइपीएल की मेज’बानी के लिए सबसे म’जबूत दावेदार है।


हालांकि बताया ये जा रहा है कि बीसीसीआई के पास श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड से भी ऑफर आया है लेकिन अभी भारतिय क्रिकेट बोर्ड हालात के सुधरने और T20 विश्व कप के स्थगित होने के इंतजार में है जिससे कि ऑक्टोबर नवंबर में इसका आयोजन भारत में ही हो सके। इस स्थिति में अमीरात क्रिकेट बोर्ड को ये यकीन है कि अगर ऑक्टोबर सुर नवंबर में आईपीएल आयोजित किया जाता है तो बीसीसीआइ इसे किसी तटस्थ स्थल पर आयोजित करना चाहेगी जिस से की दुबई को इसकी मेजबानी हा’सिल हो सकती है।

Emirates Cricket Board के सलाहकार शुभम अहमद का कहना ये भी है कि यूएई ने 2014 में भी आईपीएल की मेजबानी को अं’जाम दिया था और उसी तरह हम इस बार भी दावेदार हैं और शुभम अहमद का कहना है कि ” मौसम संयुक्त अरब अमीरात में अक्टूबर और नवंबर के महीनों में क्रिकेट के लिए अनुकूल है। बीसीसीआइ को यूएई में आइपीएल मैचों की मेजबानी करने का पिछला अनुभव था। एक बड़े भारतीय और अन्य उपमहाद्वीप प्रवासी आबादी के साथ, उसी समय और विश्व स्तर के स्टेडियमों में आइपीएल आयोजित हो सकता है। इसलिए ईसीबी को भरो’सा है कि यूएई आइपीएल मैचों की मेजबानी करने के लिए एक मजबूत दावेदार होगा।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.